Sports

नई दिल्ली: पाकिस्तान के राजनीतिक स्तर से लेकर क्रिकेट के मैदान तक ये मनजारा देखने को मिल रहा है। इन दिनों सबके जुबान पर सिर्फ दो ही मुद्दे नजर आ रहे है पहला सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान की हालत, दूसरा पाकिस्तान में क्रिकेट की दवेदारों की बुरी हालत। 

ऐसे में पाकिस्तान ने फिर से ये बात जाहिर कर दी है कि वह अपनी बातों पर कभी कायम नहीं रह सकता है।  हम यह बात कर रहे है इन दिनों पाकिस्तान में चल रहे जावेद मियांदाद और शाहिद अफरीदी के बीच के मेलोड्रामा की । जिसमें पहले दोनों वह एक दूसरे पर आरोपों की बरसात कर रहे थे। ऐसेे में अब ये दोनों दुश्मन से दोस्त हो गए हैं। एक वीडियो समाने आया है जिसमें एक दूसरे से दोनों शिकवे दूर करते नजर आ रहे हैं।

एक दूसरे का अपमान करने के बाद अचानक से दोनों खिलाड़ी एक दूसरे को भाई कहने लगे है । ऐसे में सोचने वाली बात यह है कि कही दाउद इब्राहिम के धमकी देने के बाद इन खिलाड़ियों पर कोई असर तो नहीं पङा। कुछ दिन पहले दाउद इब्राहिम ने शाहिद अफरीदी को अपना मुंह बंद करे रहने की धमकी दी थी ।

फिलहाल इन तस्वीरों को देख कर यह याकिन करना मुश्किल है कि एक दूसरे को गुस्से में किसी को  “चोर की औलाद, पैसे लेकर मैच फिक्स करने वाला “ कहने वाले लोग एक दूसरे के साथ बैठ के कैसे मिठाई खा सकते  है।

कुछ लोगों का कहना है कि यह सब शोएब अख्तर को वजह से हुआ शोएब अख्तर ने पाकिस्तान के जियो न्यूज को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि मियांदाद और अख्तर के बीच सुलह कराने में उनका सबसे बङा रोल है, लेकिन जोश में आए अख्तर ने यह भी कहे दिया की मैने दोंनों को फोन किया और समझाया की ऐसा करना गलत है औऱ अगर यह मामला कोर्ट में उठाता है तो इससे कई और लोगों के नाम इसमें आने की आशंका है। ऐसे मे फिलहाल बस ये कहा जा सकता है कि इन दोनों के बीच सुलह हो गई है।