Sports

बेंगलुरू: चिर-प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 3-2 से पराजित कर एशियन चैंपियंस ट्रॉफी जीतने वाली भारतीय हॉकी टीम का स्वदेश लौटने पर भव्य स्वागत किया गया। यहां पहुंचने पर भारतीय टीम के कप्तान और खिलाड़ियों का माला पहनाकर स्वागत किया गया।

इस दौरान कप्तान व गोलकीपर श्रीजेश ने कहा कि टीम ने अपनी भावनाओं पर काबू रखते हुए धैर्य के साथ खेला और खिताब पर कब्जा जमाया। कप्तान ने इस जीत को देशवासियों के लिए दिवाली का तोहफा बताया और इस जीत को सैनिकों को समर्पित किया।  सैमीफाइनल के हीरो रहे पीआर श्रीजेश चोट की वजह से फाइनल मैच में नहीं खेल पाए थे और उनकी जगह आकाश छिकते भारत के गोलकीपर रहे। भारतर ने इससे पहले 2011 में यह खिताब जीता था।