Sports

पटना ,बिहार (निकलेश जैन ) खादी इंडिया नेशनल प्रीमियर शतरंज चैंपियनशिप 2017 में आज पांचवा राउंड खेला गया और और आज सात मैचों में से तीन मैचों के परिणाम निकले जबकि 4 मैच ड्रा रहे सबसे बड़ा उलटफेर अनुभवी ग्रैंडमास्टर अभिजीत कुंटे का युवा खिलाड़ी सम्मेद शेटे के हाथों पराजित होना रहा जबकि एक अन्य मुकाबले में ग्रैंड मास्टर आर आर लक्ष्मण ने नेशनल चैलेंजर विजेता दीपन चक्रवर्ती को लगातार तीसरी हार का स्वाद चखाया और आज के सबसे महत्वपूर्ण मुकाबले में युवा खिलाड़ी ग्रांड मास्टर अरविंद चितांबरम ने ग्रांड मास्टर स्वप्निल धोपाड़े को पराजित किया और इस जीत के साथ ही अरविंद अब सुनील नारायण और ललित बाबू के साथ 3.5 अंकों को बनाकर शीर्ष पर आ गए हैं । 

PunjabKesari

खैर सबसे पहले बात करते हैं पहले बोर्ड पर अरविंद और स्वप्निल के मुकाबले की कारो कान वेरिएसन मे हुए इस मुक़ाबले में स्वप्निल काले मोहरो से खेलते हुए खेल में बराबरी बनाए रखते हुए मोहरो की अदला बदली करते हुए खेल को एंडगेम में ले आए और 28वी चाल में दोनों खिलाड़ी के वजीर के खेल से बाहर होते ही ऐसा लगने लगा की अब खेल ड्रॉ की और आगे बढ़ जाएगा । दोनो के पास 6 प्यादे ,एक हाथी और एक घोडा था पर जहां अरविंद के मोहरे आक्रामक मुद्रा में थे तो स्वप्निल के मोहरे बचाव की स्थिति में तभी 31 वीं चाल में स्वप्निल नें अपने घोड़े को अरविंद के घोड़े से बदलने के लिए सामने रखा और अरविंद नें स्वप्निल के राजा और हाथी की कमजोर स्थिति को समझते हुए ना सिर्फ घोड़े को खेल से बाहर किया बल्कि अपने आक्रामक हाथी और राजा के तालमेल से खेल में और दबाव बना दिया । खेल का सबसे खूबसूरत पल तब आया जब 50 वी चाल में अरविंद नें अपना हाथी कुर्बान करते हुए अपने दो प्यादो के दम पर ही जीत सुनिश्चित कर दी और 58वी चाल में स्वप्निल नें हार स्वीकार कर ली ।

PunjabKesari 

दूसरे बोर्ड पर आज दिन का सबसे बड़ा उलटफेर हुआ अब तक सबसे संतुलित खेल दिखाते हुए सबसे अनुभवी और पूर्व ब्रिटिश ओपन विजेता ग्रांड मास्टर अभिजीत कुंटे को युवा खिलाड़ी सम्मेद शेटे के हाथो पराजय का सामना करना पड़ा । सिसलियन तमनोव में हुए इस मुक़ाबले में अभिजीत काले मोहरो से खेलते हुए वजीर के तरफ के हिस्से में मौजूद सम्मेद के राजा के उपर दवाब बना रहे थे जबकि सम्मेद बोर्ड के दूसरी तरफ मौजूद अभिजीत के राजा पर आक्रमण कर रहे थे । 14 वी चाल में इस दौरान सम्मेद नें अपने प्यादे से अभिजीत के घोड़े पर हमला किया और इस बचाव में अभिजीत नें घोड़े की अदला बदली की जिस से उनके राजा के उपर और दबाव पड़ने लगा पर फिर भी खेल उनकी पकड़ से बाहर नहीं गया था पर खेल की 17 वी चाल में जब वह सम्मेद पर जबाबी हमला कर सकते थे उन्होने अपने प्यादे की एक रक्षात्मक चाल चली जिसके बाद उनके राजा पर संकट और बढ़ गया और जल्द ही मात्र 29 चालों में युवा सम्मेद नें अपने खेल जीवन की सबसे यादगार जीत दर्ज की । 

PunjabKesari

तीसरे बोर्ड पर एक बार फिर आज ग्रांड मास्टर आरआर लक्ष्मण की किस्मत उनके साथ थी जबकि दीपन जैसे लगातार दो मैच हारकर अपना आत्मविश्वास खोते नजर आए । दीपन को आज लगातार तीसरी हार का सामना करना पड़ा जबकि लक्ष्मण नें आज लगातार दूसरी जीत दर्ज की हालांकि आज भी उन्हे किस्मत को थोड़ा सहारा मिला । किंग पान ओपनिंग के  गिउको पियानो वेरिएसन में दीपन नें 17वी चाल में अपने घोड़े की एक शानदार चाल से मैच में पकड़ बना ली और ऐसा लगा की वह आज वापसी करेंगे पर खेल की 22वी चाल में उन्होने अपने प्यादे की गलत चाल चलकर लक्ष्मण के वजीर को खेल में आने का मौका दे दिया और फिर वह लगातार गलतियाँ करते गए और लक्ष्मण नें अपने वजीर और घोड़े के शानदार तालमेल से उन्हे ऐसा परेशान किया की 40वी चाल में उन्हे अपनी हार स्वीकार करनी पड़ी । 

अन्य चार  मुक़ाबले ड्रॉ रहे जिसमें  चौंथे बोर्ड पर ग्रांड मास्टर सुनील नारायण पूर्व विजेता मुरली कार्तिकेयन से बेहतर स्थिति में होते हुए भी जीत दर्ज नहीं कर सके । बिशप ओपनिंग में हुए इस मुक़ाबले में सुनील नें 25 वी चाल में अपने प्यादे को मुरली के राजा के तरफ के हिस्से में आक्रामक तरीके से आगे बढ़ते हुए खेल में साफ बढ़त हासिल कर ली । बचाव नें मुरली नें लगातार मोहरो की अदला बदली कर ली और मात्र 32 चाल में खेल में बड़े मोहरो में दोनों के पास एक वजीर और घोडा रह गया ।ऐसे में सुनील का एक प्यादा छठे घर पर पहुँच गया था को बेहद खतरनाक लग रहा था और उनके दो प्यादे उनके राजा को सुरक्षित कर रहे थे पर ऐसे में वह एक गलती कर बैठे और अपने प्यादे गवा बैठे और 43 वी चाल में मैच बराबरी पर समाप्त हुआ । 

अन्य सभी मैच भी ड्रॉ रहे जहां ललित बाबू नें अर्घ्यदीप दास से ,एस नितिन नें देबाशीष दास से तो श्याम निखिल नें हिमांशु शर्मा से ड्रॉ खेला । 

पाँच राउंड के बाद अरविंद ,रोहित और सुनील 3.5 अंको के साथ सयुंक्त पहले पायदान पर चल रहे है । जबकि मुरली और लक्ष्मण 3 अंको के साथ सयुंक्त दूसरे स्थान पर पहुँच गए है । जबकि अर्घ्यदीप ,सम्मेद और नितिन 2.5 के साथ सयुंक्त तीसरे स्थान पर है । 

सुने मैच का हाल - चेसबेस इंडिया के सौजन्य से