Sports

नई दिल्ली: सुरेश कलमाडी और अभय चौटाला को भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) का आजीवन अध्यक्ष बनाये जाने के फैसले का कड़ा विरोध करते हुये अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ के अध्यक्ष नरेन्द्र ध्रुव बत्रा ने आईओए के सह उपाध्यक्ष पद से शुक्रवार को इस्तीफा दे दिया।

बत्रा ने एक बयान जारी कर कहा कि मैं आईओए की आम सभा में दो आजीवन अध्यक्ष बनाये जाने के फैसले का समर्थन नहीं करता हूं। हालांकि मैं एक आजीवन अध्यक्ष को धन्यवाद देना चाहता हूं जिन्होंने आईओए के प्रस्ताव को ठुकरा दिया। हॉकी इंडिया के पूर्व अध्यक्ष ने कहा, बैठक के तीन दिन गुजर जाने के बावजूद आईओए ने आजीवन अध्यक्ष बनाने के इस फैसले को वापस नहीं लिया है। इसलिये इसके विरोध स्वरूप मैं आईओए के सह उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहा हूं। 

उल्लेखनीय है कि खेल मंत्री विजय गोयल ने आईओए के इस फैसले को अस्वीकार्य बताते हुये आईओए को कारण बताओ नोटिस भी भेजा है और आईओए के साथ तमाम संबंध को तोडऩे की चेतावनी भी दी है। आईओए ने खेल मंत्रालय के नोटिस का अब तक कोई जवाब नहीं दिया है।