Sports

नई दिल्ली: आेलिंपिक कांस्य पदक विजेता और 5 बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकोम ने आज इन खबरों को खारिज किया कि यहां राष्ट्रीय पर्यवेक्षकों की बैठक के दौरान उन्होंने शीर्ष पुरूष मुक्केबाज शिव थापा को टारगेट आेलिंपिक पोडियम (टाप) से हटाने की मांग की थी। मैरीकोम ने बयान जारी करके शुक्रवार को हुई बैठक में एेसी कोई भी टिप्पणी करने से इनकार किया। 

मैरीकोम ने बयान में कहा कि खबरों में कहा गया है कि मैंने कहा कि शिव थापा का करियर खत्म हो गया है और वह तोक्यो 2020 आेलिंपिक में कुछ नहीं कर पाएगा। यह पूरी तरह से मनगढ़ंत है। उन्होंने कहा कि मैं बता दूं कि मैंने एेसा कुछ नहीं कहा कि शिव का करियर खत्म हो गया है और उसे टाप योजना से बाहर कर देना चाहिए। गलत बयानों का इस्तेमाल करके कड़ी मेहनत करने वाले मुक्केबाज की प्रतिष्ठा से खिलवाड़ मुझे स्वीकार्य नहीं है। विश्व चैंपियनशिप की तैयारी कर रहे 23 साल के थापा अभी फ्रांस में ट्रेनिंग के लिए गए हैं। उन्होंने हाल में ताशकंद में एशियाई चैंपियनशिप में रजत पदक जीता था।  मैरीकोम ने इससे भी इनकार किया कि उन्होंने कहा है कि मनोज कुमार अपने शीर्ष स्तर से गुजर चुके हैं। 

30  साल के मनोज ने भी हैम्बर्ग में 28 सितंबर से होने वाली विश्व चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई कर लिया है। मैरीकॉम ने कहा कि मैंने मनोज कुमार के बारे में कभी अधिक आयु का होने के बारे में नहीं किया जैसा सूत्रों के हवाले से कहा गया है। उन्होंने कहा कि तथ्यों की पुष्टि किए बिना इस तरह की खबरें देना मेरी प्रतिष्ठा से खेलना है।  मैरीकोम उन दो राष्ट्रीय पर्यवेक्षकों में शामिल हैं जिन्हें खेल मंत्रालय ने मुक्केबाजी के लिए नियुक्त किया है। अन्य पर्यवेक्षक राष्ट्रमंडल खेलों के पूर्व स्वर्ण पदक विजेता अखिल कुमार हैं।