Sports

नई दिल्ली: पिछले दिनों ओलिम्पिक में पदक जीतने वाली पहली अफ्रीकी महिला पहलवान होने का गौरव हासिल करने वाली ट्यूनीशिया की मारवा अमरी ने कहा है कि ओलम्पिक में भले ही उनका सामना कांस्य पदक विजेता भारत की साक्षी मलिक से नहीं हो पाया हो लेकिन वह प्रो रेसलिंग लीग (पीडब्ल्यूएल) में उन्हें हराकर खुद को बेहतर पहलवान साबित करेंगी।  

साक्षी और मारवा का रियो ओलिंपिक में आमना सामना नहीं हुआ था और दोनों को ही कांस्य पदक हासिल हुए थे। मारवा ने कहा कि उन्होंने साक्षी की कई कुश्तियों की वीडियो देखी हैं और वह उनके सकारात्मक और नकारात्मक पक्ष से भली भांति वाकिफ हैं। उन्होंने कहा कि उनके वीडियो देखकर उन्हें साक्षी की कुश्ती को बारीकी से देखने का मौका मिला है और इसके लिए उन्होंने अभी से तैयारी शुरू कर दी है। साक्षी भी इन दिनों रोहतक में कड़े अभ्यास में जुटी हैं। मारवा कल सुबह यहां पहुंच रही हैं। इसी दिन वह पीडब्ल्यूएल के कार्यक्रम के दौरान मीडिया से मुखातिब होंगी। शनिवार को वह मुंबई जाएंगी जहां वह चरखी दादरी में गीता फोगट की शादी में बतौर मेहमान शामिल होंगी। मारवा ने कहा कि उन्होंने इसके लिए पूरी तैयारियां कर ली हैं। 

उन्होंने कहा कि वह अपने साथ शादी में पहनने वाली ड्रेस भी लाई हैं। यहां अपने मित्रों के साथ विचार विमर्श करके वह तय करेंगी कि उन्हें इस शादी में क्या पहनना है। वह याना रैटिगन के साथ इस शादी में शामिल हो रही हैं। मारवा ने कहा कि उन्होंने भारत के बारे में बहुत कुछ सुन रखा है। उनके मन में इस देश के लिए बहुत आदर है और यहां की बहुत सी चीजें ट्यूनीशिया से मिलती जुलती हैं।