Hockey

बेंगलुरू: भारतीय हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह ने आज कहा कि उनकी टीम जब 11 अक्तूबर से एशिया कप 2017 में जापान के खिलाफ अपने अभियान की शुरूआत करेगी तो उसका लक्ष्य एशिया में नंबर एक स्थान बरकरार रखना होगा।  भारत टूर्नामेंट में नंबर एक रैंकिंग की टीम के रूप में भाग लेगा और सुपर 4 में जगह बनाने के लिए पूल ए में उसका सामना जापान, बांग्लादेश और पाकिस्तान से होगा। 

हॉकी इंडिया के हाई परफोरमेन्स निदेशक डेविड जान और नव नियुक्त मुख्य कोच मारिन शूअर्ड की देखरेख में सप्ताह के राष्ट्रीय शिविर के बाद 18 सदस्यीय टीम टूर्नामेंट के लिए पूरी तरह तैयार है। मनप्रीत ने टीम के ढाका रवाना होने से पहले कहा कि हम जानते हैं कि इस टूर्नामेंट में हम सबसे अधिक रैंकिंग की टीम के रूप में भाग ले रहे हैं और हमारा लक्ष्य अपना नंबर एक दर्जा बरकरार रखना है। 

उन्होंने कहा कि हालांकि प्रत्येक टीम खिताब जीतने के उद्देश्य से आएगी और इसलिए हम यह सोचकर किसी भी टीम को कम करके नहीं आंक सकते कि उसकी रैंकिंग हमसे कम है। मनप्रीत ने कहा कि हमारा मानना है कि जापान, बांग्लादेश या पाकिस्तान किसी से भी मैच हो, हमें अपने बेसिक्स पर कायम रहना होगा। इस साल जून में विश्व हाकी लीग सेमीफाइनल में पाकिस्तान को हराने के बाद भारत पूल ए के तीसरे मैच में 15 अक्तूबर को अपने इस चिर प्रतिद्वंद्वी से भिड़ेगा। भारत का पहला मैच 11 अक्तूबर को जापान से होगा।