Sports

नई दिल्ली: दिग्गज भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने शुक्रवार को आगामी चैंपियंस ट्राफी में टीम इंडिया की जीत का भरोसा जताते हुये कहा कि टीम के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी का अनुभव इस टूर्नामेंट में अहम साबित होगा।  

अपनी फिल्म‘सचिन: ए बिलियन ड्रीम्स’के प्रचार के सिलसिले में यहां पहुंचे सचिन ने कहा कि धोनी को किस क्रम पर बल्लेबाजी करनी चाहिये यह फैसला टीम प्रबंधन को करना चाहिये। वर्ष 2013 में भारत ने धोनी की कप्तानी में ही चैंपियंस ट्राफी का खिताब अपने नाम किया था। हालांकि इस बार धोनी बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज आईसीसी टूर्नामेंट में टीम का हिस्सा होंगे क्योंकि वह सीमित ओवर प्रारूप में अपनी कप्तानी विराट कोहली के हाथों में सौंप चुके हैं।   

सचिन ने अनुभवी पूर्व भारतीय कप्तान धोनी की टीम में अहमियत बताते हुए यहां यूनीवार्ता से कहा कि धोनी को बल्लेबाजी किस क्रम पर करनी है यह फैसला भी टीम प्रबंधन को ही करना चाहिये। उन्हें इंग्लैंड की परिस्थितियों के बारे में पता है और वह अपने खेल को बेहतर ढंग से जानते हैं।  मास्टर ब्लास्टर ने कहा कि हर मैच के लिए परिस्थितियां अलग होती है और धोनी जैसे अनुभवी बल्लेबाज के बल्लेबाजी क्रम पर काफी कुछ निर्भर करता है ऐसे में टीम प्रबंधन को टूर्नामेंट से पहले यह योजना बनानी चाहिए कि टीम के लिए क्या ठीक है।