Football

मडगांवः ईरान ने शुरूआती बढ़त के दम पर आज यहां मैक्सिको को 2-1 से पराजित करके फीफा अंडर-17 विश्व कप में अपना विजय अभियान जारी रखते हुए अंतिम आठ में प्रवेश किया जहां उसका मुकाबला स्पेन से होगा। ग्रुप चरण में अजेय रहे ईरान की यह लगातार चौथी जीत है। वह पहली बार इस टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में पहुंचा है।  

ईरान ने झोंकी पूरी ताकत
ईरान ने मोहम्मद शरीफ (सातवें) और अल्लाहयार सैयद (11वें मिनट) के गोल की बदौलत शुरू में ही मैक्सिको पर दबाव बना दिया था। राबर्टो डि ला रोसा ने 37वें मिनट में मैक्सिको की तरफ से गोल किया लेकिन इसके बाद ईरान ने अपनी पूरी ताकत गोल बचाने में झोंक दी और अपने प्रतिद्वंद्वी की बराबरी करने की सभी उम्मीदों पर पानी फेरा। लीग चरण में जर्मनी को 4-0 से हराकर सनसनी फैलाने वाले ईरान को मोहम्मद गादेरी को मैक्सिको के बाक्स में गिराने के कारण खेल के सातवें मिनट में ही पेनल्टी मिली जिसे शरीफ ने गोल में बदला। इसके केवल चार मिनट बाद मैक्सिको की रक्षापंक्ति में फिर से बिखराव दिखा जिससे स्ट्राइकर सैयद को लंबा पास नियंत्रित करने और उस पर करारा शाट जमाने का पूरा मौका मिला।

रोसा ने गोल करते जगाई मैक्सिको उम्मीद
मैक्सिको के गोलकीपर सीजर लोपेज के पास उनके शाट का कोई जवाब नहीं था। मैक्सिको ने पहले आधे घंटे के खेल के बाद कुछ प्रभाव छोड़ा और कुछ अच्छे मौके बनाये। उन्होंने इस बीच ईरानी गोलकीपर अली गुलाम जादेह को व्यस्त रखा। इस बीच रोसा ने रिबाउंड पर गोल करके मैक्सिको की उम्मीद जगा दी। दूसरे हाफ में भी मैक्सिको ने लगातार हमले किये। इस बीच डियगो लीनेज और जायरो टोरेस गोल करने के करीब भी पहुंचे लेकिन अंतिम क्षणों की चूक के कारण बराबरी का गोल नहीं दाग पाये।