Sports

चेन्नई: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने फिक्सिंग के आरोपों के बाद इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) से दो वर्षों के लिये प्रतिबंधित की गयी दो फ्रेंचाइजी टीमों चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स की लीग में वापसी का शुक्रवार को स्वागत किया। चेन्नई और राजस्थान ने उच्चतम न्यायालय द्वारा नियुक्त लोढा समिति के दो वर्ष के निलंबन को पूरा कर लिया है और अब ये टीमें 2018 में होने वाले आईपीएल के 11 वें संस्करण में हिस्सा ले सकेंगी। 

बीसीसीआई के कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना ने दोनों टीमों की वापसी का स्वागत करते हुए कहा कि वीवो आईपीएल चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स की वापसी से और मजबूत होगा। दोनों टीमों ने टूर्नामेंट में शानदार कामयाबी हासिल की थी और इनके भारी संख्या में प्रशंसक हैं। इन टीमों के प्रशंसक अपनी टीमों और स्टार खिलाडिय़ों को आईपीएल के अगले सत्र में खेलता देखने के लिये बेताब होंगे। 

आईपीएल चेयरमैन राजीव शुक्ला ने भी इन टीमों की वापसी का स्वागत करते हुए कहा कि हमारे चेन्नई और राजस्थान टीमों के साथ मजबूत संबंध रहे हैं और हम उम्मीद करते हैं कि ये संबंध इसी तरह आगे भी जारी रहेंगे। टूर्नामेंट के 11 वें संस्करण के लिये दोनों टीमों का स्वागत है। बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने भी टीमों का स्वागत करते हुए कहा कि इनकी वापसी से आईपीएल की लोकप्रियता में और इजाफा होगा। मैं उन्हें आगामी सत्र के लिये शुभकामनाएं देता हूं।