Sports

विशाखापत्तनम: भारतीय स्पिनरों के खिलाफ इंग्लैंड की अति रक्षात्मक बल्लेबाजी के बाद मेजबानों ने दूसरे क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन विपक्षी टीम के कप्तान एलिस्टर कुक का विकेट हासिल अपनी पकड़ मजबूत कर ली। जीत के लिए 405 रन के विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड ने कप्तान कुक और युवा हसीब हमीद की रक्षात्मक बल्लेबाजी की बदौलत स्टंप तक दो विकेट पर 87 रन बना लिए जिससे हाशिम अमला और एबी डिविलियर्स की पिछले साल फिरोजशाह कोटला मैदान पर की गई बल्लेबाजी की याद ताजा हो गई। 

कुक ने लगाया सबसे धीमा अर्धशतक
पहले दो सत्र इंग्लैंड के लिये अच्छे रहे जिसमें कुक (188 गेंद में 54 रन) और 19 वर्षीय हमीद (144 गेंद में 25 रन) ने पहले विकेट के लिये 75 रन की भागीदारी निभायी। लेकिन सबसे अहम बात यह रही कि इन्होंने इंग्लैंड की दूसरी पारी में बल्लेबाजी के 150 आेवरों में से 50 आेवर तक बल्लेबाजी की। कुक ने अपना 53वां अर्धशतक बनाते हुए काफी संयम दिखाया, जो 172 गेंद में बना और यह लंबे प्रारूप में उनका सबसे धीमा अर्धशतक है। लेकिन रविंद्र जडेजा ने उनकी इस पारी का अंत दिन की अंतिम गेंद पर उन्हें पगबाधा आउट कर किया। 

भारत जीत से महज 8 विकेट दूर
इंग्लैंड को अब अंतिम दिन 318 रन की दरकार है लेकिन अगर वे मैच ड्रा कराने में सफल रहे तो उन्हें बहुत खुशी होगी। भारत के पास बचे हुए आठ विकेट चटकाने और पांच मैचों की सीरीज में 1.0 की बढ़त बनाने के लिये कल पूरे तीन सत्र बचे हैं। उनके साथ युवा हमीद ने अपने 25 रन के लिये 24 आेवरों का सामना किया, अश्विन ने दिन के अंत में उन्हें पगबाधा आउट किया।