Sports

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम में दो वर्ष के लंबे अंतराल के बाद वापसी कर रहे गौतम गंभीर का उत्साह 7वें आसमान पर है, लेकिन अनुभवी बल्लेबाज ने साथ ही माना है कि वह पदार्पण खिलाड़ी की तरह महसूस कर रहे हैं।   

बाएं हाथ के धुरंधर बल्लेबाज गंभीर की दो साल के अंतराल के बाद टीम इंडिया में वापसी हो रही है और उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के शेष दो टैस्टों के लिए चोटिल ओपनर लोकेश राहुल की जगह भारतीय टीम में शामिल किया गया है। लंबे समय तक राष्ट्रीय टीम में नजरअंदाज किए गए 34 वर्षीय बल्लेबाज भी भारतीय टीम की जर्सी पहनने को लेकर बहुत उत्साहित महसूस कर रहे हैं। 

गंभीर ने अगस्त 2014 में अपना आखिरी टैस्ट भारत के इंगलैंड दौरे पर खेला था, लेकिन हाल ही में दलीप ट्राफी टूर्नामैंट में प्रभावशाली प्रदर्शन की बदौलत गंभीर को टेस्ट टीम में वापसी का मौका मिला है। गंभीर ने घरेलू टूर्नामेंट में लगातार 4 अर्धशतक ठोके थे जिसमें से दो में उन्होंने 90 से अधिक का स्कोर बनाया।   

अपने खुले बयानों और जवाबों को लेकर चर्चा में रहने वाले गंभीर ने ट्विटर पर भी खुले दिल से अपनी खुशी का इजहार किया है। उन्होंने कहा कि किसी नवोदित खिलाड़ी की तरह मेरे अंदर उत्साह है, खेल का अनुभव, एक नौसिखिए की तरह घबराहट, फिलहाल मुझे सबकुछ महसूस हो रहा है। भावनाओं से भरपूर ईडन गार्डन मैं आ रहा हूं।