Sports

वेस्ट वेंकूवर: भारतीय सीनियर महिला टीम ने अपने अविश्वसनीय प्रदर्शन की बदौलत हॉकी वर्ल्ड लीग राउंड दो के रोमांचक फाइनल मुकाबले में चिली को पेनल्टी शूटआउट में 3-1 से हराकर न सिर्फ जीत अपने नाम की बल्कि वर्ल्ड लीग सेमीफाइनल के लिए भी क्वालीफाई कर लिया है।  

भारत और चिली के बीच मुकाबला निर्धारित समय में 1-1 से बराबरी पर रहा जिसके बाद विजेता का फैसला शूटआउट में किया गया और टूर्नामैंट में अपने विजय अभियान को निरंतर आगे बढ़ा रहीं भारतीय महिलाओं ने 3-1 से जीत अपने नाम कर ली। टूर्नामेंट में अपनी मजबूत बाजुओं से भारत के लिये डटीं रहीं सविता को सर्वश्रेष्ठ गोलकीपर का खिताब दिया गया।   

इस जीत की बदौलत विश्व रैंकिंग में 11वें नंबर की टीम भारत ने और 19वीं रैंकिंग की टीम चिली ने दक्षिण अफ्रीका या बेल्जियम में होने वाले वर्ल्ड लीग सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई कर लिया है और उनके पास अब 2018 में लंदन में होने वाले हॉकी विश्वकप के लिए क्वालीफाई करने का मौका होगा।   

रोमांचक फाइनल में सविता ने शूटआउट में कमाल की भूमिका निभाई और चिली की किम जैकब और जोसेफा विलालाबिशिया के प्रयासों को विफल किया जिसकी बदौलत अंतत: भारत वर्ल्ड लीग का राउंड टू जीतने में कामयाब रहा। भारत की ओर से शूटआउट में कप्तानी रानी और मोनिका ने पेनल्टी पर एक के बाद एक गोल किए और भारत को 2-0 से बढ़त दिलाई।