Sports

नई दिल्ली: शीर्ष वरीय सूरज प्रबोध और दूसरे वरीय बावा हादिन ने कड़े मुकाबलों में जीत के साथ आज यहां राष्ट्रीय टेनिस चैंपियनशिप के पुरुष एकल सेमीफाइनल में जगह बनाई। प्रबोध को उनसे 21 बरस अधिक उम्र के 43 वर्षीय नितिन कीर्तने ने कड़ी टक्कर दी लेकिन इसके बावजूद क्वार्टर फाइनल में इस अनुभवी खिलाड़ी को 3-6 6-7 से शिकस्त का सामना करना पड़ा।

दो बच्चों के पिता कीर्तने 1995, 1998 और 2000 में राष्ट्रीय चैंपियनशिप जीत चुके हैं। कीर्तने ने जब अपना पहला राष्ट्रीय खिताब जीता था तब प्रबोध का जन्म भी नहीं हुआ था। हादिन को भी प्रबल दावेदारों में शुमार अर्जुन काधे पर 7-5 6-7 6-4 की जीत के दौरान जूझना पड़ा। हादिन अब दलविंदर सिंह से भिड़ेंगे जिन्होंने प्रतिभावान क्वालीफायर नितिन कुमार सिन्हा को कड़े मुकाबले में 4-6 6-4 6-4 से हराया। इस मैच की थकान का असर सिन्हा के अंडर 18 लड़कों के क्वार्टर फाइनल में भी दिखा जिसमें वह सचित शर्मा के खिलाफ 5-7 0-6 से हार गए। पुरुष एकल का एक अन्य सेमीफाइनल प्रबोध और मनीष सुरेश कुमार के बीच खेला जाएगा।

मनीष ने पहला सेट गंवाने के बाद जोरदार वापसी करते हुए पूर्व चैंपियन मोहित मयूर को 1-6 6-1 6-1 से हराया।  महिला एकल में शीर्ष वरीय जील देसाई ने शेख हुमैरा को 6-2 6-4 से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया। वह अगले दौर में भुवाना कल्वा से भिड़ेंगी जिन्होंने जोरदार वापसी करते हुए छठी वरीय प्रेरणा भांबरी को 0-6 6-4 6-3 से हराया।  पांचवीं वरीय महक जैन ने दूसरी वरीय साई समहिता को 6-2 6-2 से हराकर अंतिम चार में जगह बनाई जहां उनका सामना प्रतिभावान तानिया कश्यप से होगा जिन्होंने पिं्रकल सिंह को 6-1 6-0 से शिकस्त दी।