Sports

लुसाने: अंतर्राष्ट्रीय फुटबाल महासंघ(फीफा) ने कहा है कि वीडियो रेफरी फुटबाल में पेनल्टी गोल देने से लेकर करीब 25 क्षेत्रों में खेल के नियमों में बदलाव में मदद कर सकता है। फीफा ने कहा कि वीडियो रेफरी फुटबाल में बड़े बदलावों में मदद कर सकता है। अंतरराष्ट्रीय फुटबाल बोर्ड संघ (आईएफएबी) के तकनीकी निदेशक डेविड एलरे ने कहा कि वीडियो सहायक रेफरी की मदद से हैंडबॉल नियम में अहम बदलाव कर सकते हैं जिससे खेल को अधिक पारदर्शी बनाया जा सकता है।   

एलरे ने कहा कि इस मामले में संस्था ने लुईस सुआरेज के उरूग्वे के घाना के खिलाफ 2010 विश्वकप में गोल लाइन पर हैंडबॉल घटना के बारे में भी चर्चा की। इस घटना में अफ्रीकी टीम पेनल्टी हासिल नहीं कर सकी थी तथा सेमीफाइनल में जगह नहीं बना सकी थी।  

62 वर्षीय अधिकारी ने कहा कि आईएफएबी खेल के 25 क्षेत्रों में बदलाव करने के बारे में विचार कर रहा है और हैंडबॉल भी इसमें शामिल है। बहुत लोग इस बारे में बात करते हैं। विश्वकप 2018 से पूर्व वीडियो सहायक रेफरी का प्रयोग किया गया है। इस सप्ताह फ्रांस और स्पेन के बीच हुए एक दोस्ताना मैच में वीडियो रेफरी ने फ्रांसीसी स्ट्राइकर एंटोनी ग्रिजमेन के ऑफ साइड गोल को खारिज किया था।