Sports

टिबीलिसी ,जॉर्जिया ( निकलेश जैन )विश्व के 40 देशो के 128 चुनिन्दा खिलाड़ियों के बीच बेस्ट ऑफ टू मैच के नाक आउट आधार पर खेला जा रहा फीडे विश्व शतरंज कप में सात भारतीय खिलाड़ियों मे से पाँच खिलाड़ी विश्वनाथन आनंद , पेंटाला हरिकृष्णा ,विदित गुजराती ,भास्करन अधिबन और  एसपी सेतुरमन  अगले राउंड में पहुँचने में कामयाब रहे है । जबकि,दीपसेन गुप्ता और मुरली कार्तिकेयन पहले दौर में हारकर विश्व कप से बाहर हो गए है ।

विश्वनाथन आनंद - पहले दो क्लासिकल मुकाबलो में आनंद नें अपने प्रतिद्वंदी मलेशियन नंबर एक येओह ली टीयन को 1.5-0.5 से पराजित करते हुए दूसरे दौर में जगह बना ली । हालांकि आनंद का दूसरा मैच ड्रॉ करना चौंकने वाला था ओर एक समय तो वह खराब स्थिति में आ गए थे पर उनके विरोधी इसका फ़ायदा नहीं उठा सके । 

PunjabKesari

विदित गुजराती - विदित भी अपने क्लासिकल मुकाबलो के जरिये ही दूसरे दौर में जाने में कामयाब रहे उन्होने पारग्वे के ग्रांड मास्टर डेलगाड़ो रेमिरिज से पहला मैच ड्रॉ खेलने के बाद दूसरे मैच में जीत दर्ज करते हुए अंतिम 64 में अपनी जगह बना ली । 

PunjabKesari

पेंटाला हरिकृष्णा - कहना होगा की अपने से 200 कम रेटिंग के क्यूबन ग्रांड मास्टर विडाल यूरी  से भी हरिकृष्णा को जीतकर अगले दौर में जाने में पसीना आ गया पर उन्होने हार नहीं मानी पहला क्लासिकल हारने के बाद दूसरे मैच जीतकर क्लासिकल का स्कोर 1-1 कर दिया और इससे वह मैच को टाईब्रेक में ले जा सके पहले दोनों रैपिड टाईब्रेक ड्रॉ रहे और स्कोर 2-2 हो गया फिर हुआपहला  ब्लिट्ज़ मैच भी ड्रॉ रहा और स्कोर 2.5-2.5 हुआ पर अंतिम ब्लिट्ज़ में हरिकृष्णा नें जीत दर्ज करते हुए 3.5-2.5 से पहले दौर को पार करते हुए दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया । 

PunjabKesari

अधिबन भास्करन - अपनी ही बराबरी के खिलाड़ी वियतनाम के त्रुओंग सोन को पराजित कर अगले दौर में जगह बनाई । उनके पहले दोनों क्लासिकल मैच ड्रॉ रहे और इसके बाद हुए टाईब्रेक के मैच ड्रॉ रहे और स्कोर 2-2 हो गया । पर टाईब्रेक के पहले ब्लिट्ज़ मुक़ाबले में उन्होने जीत और दूसरे को ड्रॉ करते हुए मुक़ाबला 3.5-2.5 से अपने नाम कर लिया । 

PunjabKesari

एसपी सेथुरमन - अगर पहले दौर का  सबसे शानदार उन्हे कहा जाए तो कुछ भी गलत नहीं होगा । उन्होने पूर्व फीडे विश्व चैम्पियन उक्रेन के रुसलान पोनोमरियोव से पहला क्लासिकल ड्रॉ खेलने के बाद दूसरे मुक़ाबले में जीत दर्ज करते हुए बड़ा उलटफेर किया और 1.5-0.5 से मैच जीतकर सभी को चौंकाते हुए अगले दौर में प्रवेश कर लिया । 

PunjabKesari

मृरली कार्तिकेयन नें अच्छा खेल दिखाया पर फिर भी उन्हे  स्पेन के नंबर एक खिलाड़ी फ्रान्सिस्को वलेजों पोंस से पराजय का सामना करना पड़ा । पहला क्लासिकल हारकर उन्होने दूसरे क्लासिकल में जीत दर्ज कर मैच को टाईब्रेक में खीच दिया पर वह पहले रैपिड टाईब्रेक में हार गए और दूसरा ड्रॉ होते ही वह मुक़ाबला 2.5-1.5 से हार गए और प्रतियोगिता से बाहर हो गए । 

PunjabKesari

दीपसेन गुप्ता जो की अपना पहला विश्व कप खेल रहे थे और वह चीन के हाओ वांग से क्लासिकल मुकाबलो में पहला ड्रॉ करने के बाद दूसरा मुक़ाबला हार गए और 0.5-1.5 के स्कोर के साथ हारकर विश्व कप से बाहर हो गए .