Sports

राजकोट: भारत और इंग्लैंड के बीच आगामी 9 नवंबर से पांच टेस्ट मैचों की सीरीज शुरू हो रही है। सीरिज से एक दिन पहले भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली ने कहा कि इंग्लैंड के बंगलादेश में निराशाजनक प्रदर्शन के बावजूद वह मेहमान टीम को हल्के में नहीं लेंगे और भारत अपनी पूरी क्षमता के साथ मैदान में खेलेगा। विराट ने इंग्लैंड के खिलाफ बुधवार से यहां होने वाले पहले टेस्ट मैच की पूर्वसंध्या पर कहा कि मैं यह नहीं कहना चाहूंगा कि इंग्लैंड संघर्ष कर रहा है। बंगलादेश दौरे पर उन्होंने पहले टेस्ट में अच्छा खेल दिखाया था। दूसरे मैच में मेजबान टीम ने अपनी घरेलू परिस्थितियों का फायदा उठाते हुए अच्छा खेल दिखाया। हमें पता है कि इंग्लैंड वही टीम है जिसने पिछली बार भारत आकर अच्छा प्रदर्शन किया था।
 

विरोधी टीम को नहीं कर सकते नजरअंजाद
कप्तान ने कहा कि मौजूदा समय में हम अच्छी क्रिकेट खेल रहे हैं इसके बावजूद सीरीज को लेकर हम किसी चीज की गारंटी नहीं दे सकते। हम अपनी मजबूत कड़ी पर ध्यान देना चाहते हैं, लेकिन साथ ही आप विरोधी टीम को भी नजरअंदाज नहीं कर सकते। इस समय एक टीम के रूप में आप जो करते हैं, उस पर आपको विश्वास करना चाहिए। पिछले कुछ समय से हमने इसी चीज पर ध्यान दिया है और यही वजह है कि गत 12-14 माह से परिणाम को अपने पक्ष में करने में सफल रहे हैं। 

दोनों टीमों में है कड़ा मुकाबला होने की उम्मीद
विश्व की नंबर एक टीम भारत और पिछली बार उसे चार साल पहले घरेलू सरजमीं पर हराने वाले इंग्लैंड के बीच कड़ा मुकाबला होने की उम्मीद है। इंग्लैंड ने 2012 में पहला मैच गंवाने के बाद वापसी करते हुए चार टेस्ट की सीरीज 2-1 से जीती थी। इंग्लैंड की जीत में तब ग्रीम स्वान और मोंटी पनेसर की बेहतर स्पिन जोड़ी ने अहम भूमिका निभाई थी लेकिन इस दौरे पर टीम में बड़े नामों का अभाव है।