Sports

 नई दिल्ली: दिग्गज आफ स्पिनर हरभजन सिंह का मानना है कि चुनौतीपूर्ण पिचों पर विकेट निकालना ही असली चुनौती है और इससे गेंदबाज की सही परीक्षा होती है। हरभजन ने गुरुवार को यहां तेज गेंदबाज मोहित शर्मा के साथ एडवांस्ड हेयर स्टूडियो को लांच करने के बाद संवाददाता सम्मेलन में यह बात कही। इस अवसर पर एडवांस्ड हेयर स्टूडियो के सीईओ और प्रबंध निदेशक संकेत शाह मौजूद थे। उन्होंने राजकोट में भारत और इंग्लैंड के बीच चल रहे पहले क्रिकेट टेस्ट के संदर्भ में कहा कि एक गेंदबाज के लिए उस पिच पर विकेट निकालना सबसे बड़ी चुनौती होती है जिसपर बल्लेबाज को ज्यादा मदद मिलती है।

 400 से अधिक विकेट ले चुके हरभजन ने हालांकि साथ ही कहाकि मैंने कल से यह मैच नहीं देखा है लेकिन जिस तरह इंग्लैंड ने पहली पारी में 500 से ज्यादा का स्कोर बनाया है। उससे दो ही बातें कही जा सकती हैं कि या तो यह बल्लेबाजों के लिए बहुत अच्छा विकेट है या फिर भारतीय गेंदबाज चुनौतीपूर्ण विकेट पर अच्छी गेंदबाजी नहीं कर पाए। पिछले चार पांच वर्षाें में मैंने यह पहली बार देखा है कि जब भारत में किसी विदेशी टीम ने एक पारी में 500 से अधिक का स्कोर बना दिया।
 

उल्लेखनीय है कि राजकोट टेस्ट में इंग्लैंड ने पहली पारी में 537 का स्कोर बनाया और भारत तीन स्पिनर उतारने के बावजूद इंग्लिश बल्लेबाजों पर ज्यादा दबाव नहीं बना सका। हरभजन ने कहा कि मैंने अपने करियर में हमेशा चुनौती को पसंद किया है और मुश्किल विकेटों पर विकेट निकालना मुझे हमेशा पसंद रहा है। मुझे नहीं पता कि सीरीज में आगे कैसे विकेट मिलेंगे लेकिन इतना तय है कि इंग्लैंड सीरीज में भारत के सामने कड़ी चुनौती पेश करेगा।