Sports

नई दिल्ली: कंबोडिया और म्यांमा के खिलाफ हाल में सकारात्मक परिणाम हासिल करने के दम पर भारतीय फुटबाल टीम फीफा की ताजा विश्व रैंकिंग में लंबी छलांग लगाकर 101वें स्थान पर पहुंच गई है जो पिछले 20 से अधिक वर्षों में उसकी सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग हैं।  

भारत पिछले महीने तक 132वें स्थान पर था लेकिन कंबोडिया के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय मैत्री मैच में 3-2 और म्यांमा के खिलाफ एएफसी एशिया कप क्वालीफायर में 1-0 की जीत से वह 31 पायदान की लंबी छलांग लगाने में सफल रहा। इससे भारत दो दशक के बाद पहली बार शीर्ष 100 में जगह बनाने के करीब पहुंच गया है।  भारत की सर्वश्रेष्ठ फीफा रैंकिंग 94 है जो उसने फरवरी 1996 में हासिल की थी। इसके अलावा भारत नवंबर 1993 में 99वें तथा अक्तूबर 1993, दिसंबर 1993 और अप्रैल 1996 में 100वें स्थान पर रहा था। 

पिछले दो वर्षों में भारतीय टीम ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया। इस बीच उसने 13 मैच (भूटान के खिलाफ अनधिकृत मैच सहित) खेले और इनमें से 11 में जीत दर्ज की। इस बीच उसने कुल 31 गोल किये।  राष्ट्रीय कोच स्टीफन कान्सटेनटाइन ने इसे पूरी टीम का प्रयास करार दिया। उन्होंने कहा कि राह काफी मुश्किल थी। नये खिलाडिय़ों को लाना और टीम में प्रतिस्पर्धा तैयार करना एक प्रक्रिया है और मुझे खुशी है कि हम सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। कान्सटेनटाइन ने फरवरी 2015 में जब दूसरी बार भारतीय टीम का कोच पद संभाला था तब उसकी रैंकिंग 171 थी। इसके बाद वह मार्च 2015 में 173वें स्थान पर खिसक गयी थी लेकिन बाद में लगातार अच्छे प्रदर्शन से टीम की रैंकिंग में भी सुधार होता गया।