Sports

नई दिल्लीः दुनिया के सबसे तेज धावक उसेन बोल्ड की विदाई दर्दनाक भरी रही। बोल्ट वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप के 4X100 मीटर रिले रेस में गोल्ड हासिल नहीं कर सके आैर साथ ही वह ट्रैक पर गिरकर घायल भी हो गए। ट्रैक पर बुरी तरह से गिरने के कारण वह अपनी रेस भी पूरी नहीं कर सके। उनके लिए यह क्षण सबको भावुक कर देने वाले थे। 
PunjabKesari
नहीं जीत सके गोल्ड
बोल्ट जमैका की 4 गुणा 100 मीटर की टीम में शामिल थे। उन्हें आखिरी लैप में दौड़ लगानी थी। जमैका के तीन धावकों ने अपना काम 300 मीटर तक पूरा कर दिया था, लेकिन अंतिम लैप में बोल्ट कुछ दूर दौड़ने के बाद चोटिल हो गए और मैदान पर गिर गए। इसी के साथ आखिरी रेस जीतने का उनका सपना भी टूट गया आैर इस प्रतियोगिता का गोल्ड मेजबान ग्रेट ब्रिटेन की टीम को मिला। अमरीकी रिले टीम ने सिल्वर और जापान ने ब्रॉन्ज मेडल जीता।

रो पड़े साथी खिलाड़ी
जैसे ही बोल्ट ट्रैक पर गिरे उस दाैरान पूरा स्टेडियस सन्न रह गया था। मैच के बाद जमैकाई खिलाड़ी अपने आंसू रोक नहीं पाए। बोल्ट के साथियों का टीम की हार आैर और बोल्ट के जाने का दर्द साफ दिख रहा था। 
PunjabKesari
हासिल कर चुके हैं बड़ी उपलब्धियां
बोल्ट अपने अपनी दाैड़ के करियर में कई बड़ी उपलब्धियां हासिल कर चुके हैं। उनकी जगह लेना दुनिया के किसी भी अन्य एथलीट के लिए आसान नहीं होगा। आठ बार ओलंपिक गोल्ड मेडल जीत चुके और 11 वल्र्ड गोल्ड मेडल अपने नाम कर चुके इस महान एथलिट को 2008, 2009, 2011, 2012, 2013 और 2016 में वल्र्ड एथेलिट ऑफ द इयर से नवाजा जा चुका है।
PunjabKesari