Sports

( तस्वीर चेसबेस इंडिया के सौजन्य से ) 

भारतीय ग्रांड मास्टर सर्किट के सबसे पहले ग्रांड मास्टर टूर्नामेंट भोपाल ओपन में  अंतिम निर्णायक राउंड के ठीक पहले के परिणामों नें प्रतियोगिता को बेहद रोमांचक बना दिया है । और कौन खिलाड़ी खिताब को जीतेगा यह कहना अब बहुत मुश्किल हो गया है ।हालांकि भारत के लिहाज से एक अच्छी खबर ये है की खिताब की दौड़ में शामिल 5 खिलाड़ियों में से भारतीय खिलाड़ी हिमांशु शर्मा भी शामिल है । 

आज भारत के लिए बड़ा परिणाम तब मिला जब शीर्ष भारतीय ग्रांड मास्टर हिमांशु शर्मा नें टॉप सीड और खिताब के अब तक के प्रबल दावेदार अमेरिका के तिमूर गारेएव को पराजित करते हुए ना सिर्फ उन्हे खिताब की दौड़ से बाहर कर दिया बल्कि अंतिम राउंड जीतकर खुद की खिताब संभावनाओ को जीवित कर दिया है । आज हुए मुक़ाबले में सफ़ेद मोहरो से खेल रहे हिमांशु नें सिसिलियन ओपनिंग में शुरुआत से ही तिमूर के राजा की ओर आक्रामक रुख अपनाया और उनका दबाव तब काम कर गया जब हिमांशु के दोनों ऊंट ,वजीर और प्यादो के सयुंक्त आक्रमण का तिमूर सही जबाब नहीं दे सके और 41 चालों में उन्हे करारी हार का सामना करना पड़ा । 

अन्य शीर्ष मुकाबलों में आज अधिकतर मैच बराबरी पर छूटे और परिणाम यह हुआ की अब 5 खिलाड़ी  7.5 अंक बनाकर खेल रहे है । आज सबसे आगे चल रहे वियतनाम के ट्रान तूआन मिन्ह और रूस के रोजुम इवान आपस में मुक़ाबला ड्रॉ खेला 29 चालों तक चला यह मुक़ाबला निमजो इंडियन ओपनिंग में खेला गया और लगातार मोहरो की अदला बदली के बीच मैच खेल हाथी और ऊंट के एंडगेम में जाकर बराबरी पर रहा । इस ड्रॉ की वजह से अन्य तीन खिलाड़ियों को भी बढ़त में आने का मौका मिल गया । 

पीछे से धीरे धीरे आगे की ओर बढ़ रहे इस वर्ष के भुवनेश्वर और मुंबई ओपन के विजेता वियतनाम के डुक हुआ नें अंतिम राउंड के ठीक पहले रफ्तार पकड़ते हुए भारत के राहुल संगमा को इंग्लिश ओपनिंग में पराजित करते हुए सयुंक्त बढ़त हासिल कर ली और जब कल वह रूस के रोजुम इवान से खेलेंगे तो एक जीत उन्हे वर्ष का तीसरा बड़ा भारतीय खिताब दिला सकती है । 

वही कल के हीरो रहे अंकित गजवा आज लगभग ड्रॉ मैच में मलेशिया के मलेशिया के ली तियान से पराजित हो गए स्कॉच ओपेनिंग में हुए इस मुक़ाबले में अंकित 27 चालों तक एकदम बराबरी की स्थिति में थे और जब वह 28 वी चाल में  ली तियान के दो प्यादे मार सकते थे उन्होने एक बड़ी चूक की और हाथी की एक गलत चाल नें उनसे आधा अंक छीन लिया । 

खैर एक और महत्वपूर्ण मुक़ाबले में भारत के 11 वर्षीय इंटरनेशनल मास्टर गुकेश डी नें आज टर्की के दिग्गज खिलाड़ी सुआत अटालिक को बराबरी पर रोक लिया । 

तो क्या है अंक तालिका की स्थिति - अंक तालिका की ओर देखे तो अब यह बात बेहद साफ है की बढ़त पर शामिल जो भी खिलाड़ी अंतिम राउंड में जीत दर्ज करेगा उसकी ख़िताबी जीत की संभावना प्रबल होगी । फिलहाल  भारत के हिमांशु शर्मा के साथ , वियतनाम के डुक हो और ट्रान तूआन मिन्ह ,मलेशिया के ली तियान और रूस के रोजुम इवान 7.5 अंक बनाकर सयुंक्त पहले स्थान पर है और ऐसा नजर आता है की खिताब इनमें से ही किसी एक की झोली में जाएगा ।