Sports

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष अनुराग ठाकुर के राज्य हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में 16 अक्टूबर को न्यूजीलैंड के खिलाफ जब पहला वनडे खेलने उतरेगी तो वह 900 वां वनडे खेलने वाली दुनिया की पहली टीम बन जाएगी।   

भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 3 मैचों की टैस्ट सीरीज का पहला मैच जब कानपुर के ग्रीनपार्क में खेला था तो वह भारत का 500 वां टैस्ट मैच था। इसके बाद कोलकाता के ईडन गार्डन में दूसरा टैस्ट भारत का 250 वां घरेलू टैस्ट मैच था। टैस्ट सीरीज को 3-0 से क्लीन स्वीप करने के बाद भारतीय टीम न्यूजीलैंड के खिलाफ 5 वनडे मैचों की सीरीज की शुरुआत धर्मशाला से करने जा रही है।  

वर्ष 1974 में भारत ने अपने एकदिवसीय सफर की शुरुआत 13 जुुलाई को लीड्स में इंग्लैंड के खिलाफ की थी। इसके बाद से भारत का वनडे सफर बढ़ता हुआ अब 900 वें मैच की दहलीज पर पहुंच गया है। भारत ने इस सफर के दौरान 1983 में कपिल देव की कप्तानी में और इसके 28 साल बाद 2011 में महेन्द्र सिंह धोनी की कप्तानी में दो बार विश्वकप जीते।  भारत धोनी की कप्तानी में 2015 में हुए विश्वकप के सैमीफाइनल तक पहुंचा। इसके अलावा भारत 2003 में सौरभ गांगुली की कप्तानी में विश्वकप के फाइनल में और 1996 में मोहम्मद अजहरुद्दीन की कप्तानी में भी सैमीफाइनल तक पहुंचा।