Sports

ढाका: भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट की तरह हॉकी में भी प्रतिद्वंद्विता हमेशा रोमांचक होती है और गुरूवार को यह एशिया कप अंडर 18 हॉकी टूर्नामैंट के सैमीफाइनल में देखने को मिलेगी जहां दोनों पड़ोसी देश खिताबी मुकाबले में जगह बनाने के लिए आमने सामने होंगे।  

अंडर-18 एशिया कप टूर्नामैंट में भारतीय टीम दो बार हिस्सा ले चुकी है जिसमें वह वर्ष 2001 में चैंपियन रही थी जबकि वर्ष 2009 में वह 5वें स्थान पर थी। वहीं चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान भी टूर्नामैंट में दो बार हिस्सा ले चुकी है और 2009 में चैंपियन रही थी तथा 2011 में उसने कांस्य पदक जीता था। 

मौजूदा टूर्नामैंट में दोनों टीमों ने बेहतरीन प्रदर्शन के साथ सैमीफाइनल में प्रवेश किया है। भारतीय टीम को इस बार मुश्किल ग्रुप में जगह मिली जहां उसे ओपनिंग मैच में मेजबान बंगलादेश के हाथों करीबी मैच में 4-5 से हार झेलनी पड़ी थी। लेकिन अगले मैच में उसने ओमान को 11-0 से पीटते हुए अंक बटोरे। वहीं पाकिस्तानी टीम ने अपने आसान ग्रुप में चीनी ताइपे को 6-1 से अैर चीन को 6-0 से हराया है जबकि ग्रुप के आखिरी मैच में वह हांगकांग पर 14-0 से एकतरफा जीत के साथ ग्रुप में शीर्ष पर रही थी।