Cricket

नई दिल्ली: भारत के स्पिन गेंदबाज आर अश्विन अपनी शानदार गेंदबाजी की कारण सबके दिलों में राज करते हैं। अश्विन ने क्रिकेट से सन्यास लेने के बारे में बता दिया है। उन्होंने कहा कि जब टेस्ट क्रिकेट में उनकी 618 विकेट पूरी हो जाएंगी तो वह क्रिकेट से सन्यास ले लेंगे। उन्होंने यह फैंसला इसलिए लिया क्योंकि वो अनिल कुबले का रिकॉर्ड नहीं तोडऩा चाहते।

पूर्व भारतीय कप्तान व दिग्गज गेंदबाज अनिल कुंबले का हर कोई सम्मान करता है। लेकिन इतना सम्मान पहली बार देखने को मिला है। अश्विन ने कहा मैं कुंबले का बहुत बड़ा प्रशंसक हूं। वह बौले जिस दिन वह 618 विकेट ले लेंगे उस दिन वह क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे। दरअसल अनिल कुंबले ने टेस्ट क्रिकेट में भारत की तरफ से सबसे ज्यादा (619) विकेट लिए हैं। इसीलिए अश्विन ने कहा कि कुंबले का सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड तोडऩे से पहले संन्यास लेना पसंद करेंगे। अश्विन ने खुद इस बात की जानकारी दी।

अश्विन टेस्ट में तो भारतीय टीम का लगातार हिस्सा हैं लेकिन वो वनडे और टी20 टीम से बाहर चल रहे हैं। अश्विन ने भारत के लिए अपना आखिरी वनडे मैच 30 जून, 2017 को वेस्टइंडीज के खिलाफ और आखिरी टी20 मैच 9 जुलाई, 2017 को वेस्टइंडीज के ही खिलाफ खेला था।