Cricket

मीरपुर: भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने श्रीलंका के खिलाफ आईसीसी ट्वेंटी 20 विश्वकप क्रिकेट टूर्नामेंट के फाइनल में छह विकेट से मिली हार के बाद रविवार को कहा कि टीम अच्छी शुरुआत का फायदा नहीं उठा पाई और 10-15 रन पीछे रह गई। धोनी ने कहा ‘मुझे लगता है कि हमने बीच के ओवरों में धीमी गेंदबाजी की जिसका खामियाजा हमें भुगतना पडा। हमारे बल्लेबाजों ने रन बनाने के लिए अपनी तरफ से पूरा प्रयास किया लेकिन यह एक ऐसा दिन था जब हम अच्छी शुरुआत को बडे स्कोर में नहीं बदल सके।’

उन्होंने कहा कि केवल विराट की रन बना पा रहे थे लेकिन बाकी बल्लेबाजों को रन बनाने के लिए संघर्ष करना पड रहा था। भारत ने 20 ओवर में चार विकेट पर 130 रन का मामूली स्कोर बनाया। धोनी को लगता है कि टीम 10-15 रन और बना सकती थी। धोनी ने कहा ‘मुझे लगता है कि हम 10-15 रन और बना सकते थे। ट्वेंटी 20 में इन 15 रनों की बहुत अहमियत होती है।’ उन्होंने कहा कि मैच शुरु होने से पहले हुई बारिश के कारण गेंद रुककर आ रही थी जिसके कारण रन बनाने में दिक्कत हो रही थी।