Sports

नई दिल्ली: आईपीएल मैच फिक्सिंग मामले में एक बार फिर से गुरुनाथ मयप्पन और विंदू दारा सिंह की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। फॉरेन्सिक जांच में सामने आया है कि बीसीसीआई अध्यक्ष श्रीनिवासन के दामाद और चेन्नई सुपरकिंग्स से जुड़े रहे गुरुनाथ मयप्पन और बुकी विंदू दारा की आवाज बातचीत के टेप से मेल खाती है।

वहीं फॉरेन्सिक टीम ने अपनी रिपोर्ट मामले की जांच कर रही मुंबई क्राइम ब्रांच की टीम को सौंप दी है। आवाज मेल खाने के बाद दोनों के खिलाफ केस मजबूत हो गया है, और माना जा रहा है कि यह रिपोर्ट इस बात का पुख्ता सबूत हो सकती है कि मयप्पन ने टीम की अंदरूनी जानकारियां लीक कीं। अधिकारियों के पास टेलीफोन पर हुई इस बातचीत की ट्रांसस्क्रिप्ट है।

गौरतलब है कि पिछले साल सितंबर में क्राइम ब्रांच ने मामले में चार्जशीट दाखिल की थी। इसमें मयप्पन और विंदू समेत 22 लोगों को आरोपी बनाया गया था। पाकिस्तानी अंपायर असद रउफ भी इस मामले में आरोपी हैं। इससे पहले बचाव पक्ष के वकील कोर्ट में यही दलील पेश कर रहे थे कि कथित आवाज उनके मयप्पन और विंदू की नहीं है। गौरतलब है कि गुरुनाथ मयप्पन पवन जयपुर, संजय जयपुर और चंद्रेश जैन उर्फ जुपिटर जैसे कई बुकीज के संपर्क में थे।