Cricket

नई दिल्ली: भारतीय टीम से बाहर चल रहे वीरेंद्र सहवाग का कहना है कि वह अब भी प्रतिस्पद्र्धी क्रिकेट में दो-तीन साल और खेल सकते हैं तथा आईपीएल सात में किंग्स इलेवन पंजाब की तरफ से अच्छा प्रदर्शन करने पर राष्ट्रीय टीम में वापसी का उनका दावा मजबूत होगा। सहवाग को पंजाब की फ्रेंचाइजी ने आईपीएल नीलामी में 3.2 करोड़ रुपए में खरीदा था।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं अब भी 2.3 साल प्रतिस्पद्र्धी क्रिकेट में खेल सकता हूं और इसके बाद ही सन्यास के बारे में सोचूंगा। मैं अब भी 2.3 साल क्रिकेट को दे सकता हूं। मेरा ध्यान आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब की तरफ से खेलने पर लगा है। मैं उन्हें खिताब दिलाने में मदद करना चाहता हूं।’’ इस 35 वर्षीय सलामी बल्लेबाज ने कभी दुनिया भर में अपने बल्ले का डंका बजाया था लेकिन हाल में उनकी फार्म काफी खराब रही है। कभी अपने हाथ और आंखों के बेहतरीन तालमेल से विश्व के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों के छक्के छुड़ाने वाले सहवाग ऐसे दौर से गुजर रहे हैं जहां लगता है कि रणजी गेंदबाजों को लग गया है कि उन्हें कैसे आउट करना है।

टेस्ट मैचों में दो तिहरे शतक लगाने वाले सहवाग ने हालांकि राष्ट्रीय टीम में वापसी की उम्मीद नहीं छोड़ी है। उन्होंने अगले साल होने वाले 50 ओवरों के विश्व कप के बारे में कहा, ‘‘मैं अपनी फिटनेस और बल्लेबाजी कौशल पर काम रहा हूं। यह एकाग्रता के स्तर में सुधार करने और गेंदबाजों की लेंथ को जल्दी समझने से जुड़ा है। मैं अभ्यास में काफी समय बिता रहा हूं।’’

सहवाग ने कहा, ‘‘मैं 2015 विश्व कप में खेल भी सकता हूं और नहीं भी। मैं अभी जहां भी खेल रहा हूं वहां अपने खेल का लुत्फ उठा रहा हूं। सबसे महत्वपूर्ण यह है कि मैं खेल रहा हूं और मैं इससे खुश हूं।’’ किंग्स इलेवन पंजाब के पास जार्ज बेली, ग्लेन मैक्सवेल, चेतेश्वर पुजारा और मिशेल जानसन के रूप में अच्छे बल्लेबाज और गेंदबाज हैं। सहवाग ने कहा कि टीम का पहला लक्ष्य प्ले आफ के लिए क्वालीफाई करना होगा।