Cricket

मीरपुर: लसिथ मालिंगा की तीखी गेंदबाजी के सामने चोटी के बल्लेबाजों के नाकाम रहने से भारत को आईसीसी विश्व ट्वेंटी 20 अभ्यास मैच में श्रीलंका के हाथों पांच रन से हार का सामना करना पड़ा। श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों की नाकामी के बावजूद छह विकेट पर 153 रन बनाए। इसके जवाब में भारतीय टीम 148 रन बनाकर आउट हो गई।

चोट के चलते एशिया कप में नहीं खेल पाए टीम इंडिया के कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धोनी इस मैच में भी बल्लेबाजी के लिए नहीं उतरे। पहले लगा कि धोनी शायद बाकी बल्लेबाजों को मौका देने के लिए बल्लेबाजी करने नहीं आए लेकिन मैच के बाद प्रेजेंटेशन में उन्होंने खुलासा किया, '2 दिन पहले मेरे दाएं हाथ में दर्द था तो इसे आराम देने का मेरे पास मौका था तो मैंने वही किया। हम टूर्नामेंट शुरू होने से पहले अभी एक और प्रैक्टिस मैच खेलेंगे इसलिए रिस्क लेने का कोई मतलब नहीं था। इसके अलावा इस दर्द के चलते मुझे बाकी बल्लेबाजों को फेयर चांस देने का एक मौका भी मिला।'

धोनी को टी-20 में अब भी पहले अर्धशतक का इंतजार

रैना और युवी की धमाकेदार बल्लेबाजी
सुरेश रैना ने सर्वाधिक 41 रन बनाए जबकि युवराज सिंह ने 28 गेंद पर दो चौकों और इतने ही छक्कों की मदद से 33 रन बनाए। रविंद्र जडेजा भी 12 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। अश्विन ने स्टुअर्ट बिन्नी (14) के साथ 32 रन की सांझेदारी की। आखिरी ओवर में तीन विकेट से गिरने से भारत को हार झेलनी पड़ी। बिन्नी रन आउट हुए।

भारत को लगे शुरुआती झटके
भारतीय शीर्ष क्रम भी नाकाम रहा। दोनों सलामी बल्लेबाज शिवर धवन (2) और रोहित शर्मा (4) अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए जिससे स्कोर दो विकेट पर 19 रन हो गया। रैना ने तेजी से रन जुटाए और अपनी 31 गेंद की पारी में पांच चौके और एक छक्का लगाया।

जयवर्धने ने खेली 30 रन की पारी
टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंका के शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों में से केवल माहेला जयवर्धने (30) ने सर्वाधिक रन बनाए। कप्तान दिनेश चंदीमल (29) और कुसाल परेरा (21) ही कुछ रन बनाने में सफल रहे। कुलशेखरा ने 14 गेंद पर 21 रन और तिसारा परेरा ने 11 गेंद पर 18 रन बनाकर आखिरी तीन ओवर में 30 रन जोड़े जिससे श्रीलंका 150 रन के पार पहुंचा।
 
अंतिम ओवर में मलिंगा ने ढाया कहर
भारत को आखिरी दो ओवर में 26 रन चाहिए थे। गेंदबाजी में अच्छा प्रदर्शन करने वाले रविचंद्रन अश्विन ने ऐसे में अपनी बल्लेबाजी का जलवा दिखाया। उन्होंने नुवान कुलशेखरा पर चौका और छक्का जड़ा और फिर मलिंगा के आखिरी ओवर में भी गेंद चार रन के लिए भेजी। मालिंगा ने हालांकि इस ओवर में अश्विन सहित दो विकेट चटकाये। उन्होंने चार ओवर में 30 रन देकर चार विकेट हासिल किए।