Sports

मुंबई: अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास ले चुके बल्लेबाजी के बादशाह सचिन तेंदुलकर पर चांदी के सिक्कों का विशेष संग्रह संस्करण शुक्रवार को लॉन्च किया गया लेकिन ‘भारत रत्न’ सचिन को आज भी अपने गुरु रमाकांत आचरेकर के दिए सिक्के याद हैं। वेल्यूमार्ट गोल्ड एंड ज्वैल्स लिमिटेड ने डायमंड इंडिया लिमिटेड के सहयोग से इन विशेष सिक्कों को लॉन्च किया। इस अवसर पर खुद सचिन मौजूद थे जिन्होंने सिक्कों का अनावरण किया।

सचिन के 200 टेस्टों में बने 15921 रनों पर 15921 सिक्के बनाए जाएंगे और हर सिक्का 200 ग्राम स्विस सिल्वर का होगा। सचिन ने इस अवसर पर कहा ‘मैं इस प्यार से अभिभूत हूं। मुझे आज भी याद है कि मेरे क्रिकेट गुरु रमाकांत आचरेकर मुझे जो सिक्के दिया करते थे। वह स्टम्प पर सिक्का रखते थे और यदि कोई मेरा विकेट नहीं ले पाता था तो गुरु जी मुझे वह सिक्का दिया करते थे।’

मास्टर ब्लास्टर ने अपने बचपन को याद करते हुए कहा कि उन्हें पहली बार पाकेट मनी के रुप में पांच पैसे मिले थे। रिटायरमेंट के बाद के जीवन के लिए सचिन ने कहा कि वह अब भी क्रिकेट खेल रहे हैं लेकिन अपने बेटे के साथ। वह अपने परिवार के साथ समय बिताने का लुत्फ ले रहे हैं।