Cricket

मुम्बई : बाएं हाथ के बल्लेबाज सुरेश रैना टी-20 विश्व कप में शतक बनाने वाले 4 बल्लेबाजों में अकेले भारतीय हैं जो रविवार से बंगलादेश में शुरू हो रहे 5वें टी-20 विश्व कप की टीम का हिस्सा हैं। टैस्ट और वनडे टीम से बाहर रैना ने वैस्टइंडीज में 2010 में हुए टी-20 विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 5 छक्कों और 9 चौकों की मदद से 101 रन बनाए थे। उनके अलावा क्रिस गेल (दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जोहानसबर्ग में 2007 में 117 रन), माहेला जयवर्धने (जिम्बाब्वे के खिलाफ प्रॉविडेंस में 2010 में 100 रन) और ब्रैंडन मैक्कुलम (बंगलादेश के खिलाफ पाल्लेकेले में 2012 में 123 रन) टी-20 विश्व कप में शतक जमा चुके हैं।

गेल और जयवर्धने ब्रिजटाऊन में 2010 में शतक से चूक गए जब उन्होंने क्रमश: 98 और नाबाद 98 रन बनाए थे। टी-20 विश्व कप के इतिहास में सर्वाधिक रन बनाने वालों में जयवर्धने (858 रन) और गेल (664) सबसे आगे हैं। जयवर्धने के नाम सर्वाधिक चौकों (91) और गेल के नाम सर्वाधिक छक्कों (43) का भी रिकार्ड है। दोनों बल्लेबाज सर्वाधिक 50 या 50 से अधिक रन बनाने वालों की सूची में भी पहले और दूसरे स्थान पर हैं। गेल 7 बार 50 या अधिक रन बना चुके हैं जबकि जयवर्धने 6 बार यह कारनामा कर चुके हैं।

श्रीलंका के स्पिनर अजंता मेंडिस के नाम टूर्नामैंट में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी का रिकार्ड है जिन्होंने जिम्बाब्वे के खिलाफ हंबनटोटा में सितम्बर 2012 में 8 रन देकर 6 विकेट लिए थे। उनके बाद उमर गुल का नाम है जिन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ जून 2009 में 6 रन देकर 5 विकेट लिए थे। न्यूजीलैंड के मार्क गिलेस्पी ने कीनिया के खिलाफ सितम्बर 2007 में 7 रन देकर 4 विकेट चटकाए थे।