Cricket

नई दिल्ली: पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने साफ किया कि उन्होंने कभी यह टिप्पणी नहीं की थी कि स्पिनर हरभजन सिंह को इसलिए राष्ट्रीय टीम में नहीं चुना गया क्योंकि वह चयनकर्त्ताओं और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के पसंदीदा खिलाडिय़ों की सूची में शामिल नहीं हैं। मीडिया रिपोर्टों में गांगुली के हवाले से कहा गया था जब कप्तान की पसंद के खिलाड़ी टीम में हों तो चयनकर्त्ता हरभजन के नाम पर अधिक विचार नहीं करते। गांगुली एक समाचार चैनल से बात कर रहे थे।

 

उन्होंने कहा, ‘‘मैं हरभजन सिंह की वापसी को लेकर मीडिया रिपोर्ट में मेरी टिप्पणी को लेकर कड़ी आपत्ति व्यक्त करता हूं। जिसमें कहा गया है, ‘‘मै समझता हूं कि चयनकर्त्ता इस (हरभजन के चयन) पर अधिक विचार नहीं करते खासकर तब जबकि कप्तान की पसंद के लोग टीम में हैं।’’ गांगुली ने कहा, ‘‘कोलकाता में मेरे एक टेलीविजन कार्यक्रम से यह टिप्पणी ली गई जिसे गलत तरह से पेश कर दिया गया। मैंने कहा था कि हरभजन को इसलिए नहीं चुना जा रहा है क्योंकि चयनकर्त्ताओं और धोनी को लगता कि वर्तमान स्पिनर हरभजन से बेहतर हैं।’’