Sports

दुबई: कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने आज कहा कि भारत अगले साल ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड में होने वाले क्रिकेट विश्व कप में लगातार खिताब जीतने वाली तीसरी टीम बनने का लक्ष्य बनाएगा। धोनी ने भरोसा जताया कि उनकी टीम लगातार क्रिकेट विश्व कप जीतने वाली ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज का अनुकरण करेगी। 2015 आईसीसी क्रिकेट विश्व कप के शुरू होने से एक साल पहले आईसीसी विज्ञप्ति में धोनी ने कहा, ‘‘यह सोचना शानदार है कि अपना आईसीसी विश्व कप खिताब बचाने के लिए केवल एक साल बचा है। हमने तीन साल पहले मुंबई में शानदार रात में ट्रॉफी जीती थी। उस रात और पूरे टूर्नामेंट की यादें हमारे जहन में तरोताजा हैं और ये हमेशा की तरह विशेष हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम जानते हैं कि आईसीसी क्रिकेट विश्व कप में खिताब बरकरार करना वैसा ही है जैसा वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया टूर्नामेंट के पूरे इतिहास में कर चुके हैं। लेकिन हमारी टीम जिस तरह की है, उसे देखते हुए मेरा मानना है कि हमारी टीम ऐसा करने वाली तीसरी टीम बन सकती है।’’ टूर्नामेंट ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में 14 फरवरी से 29 मार्च तक खेला जाएगा जिसमें भारत अपने अभियान की शुरुआत चिर प्रतिद्वंद्वी और 1992 चैम्पियन पाकिस्तान के खिलाफ 15 फरवरी को एडिलेड में करेगा।

धोनी ने कहा, ‘‘हमारी टीम में ऐसे खिलाड़ी मौजूद हैं जिनहें दबाव भरे हालात में खेलने का अनुभव है। हमने पहले ही दिखा दिया है कि हम क्या करने योग्य हैं, हमने विश्व चैम्पियन बनकर और आईसीसी के बड़े टूर्नामेंट में पिछले साल ब्रिटेन में आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी जीतकर विदेशी हालात में उबरकर यह दिखा दिया है।’’ भारत ने पहली विश्व कप ट्रॉफी 1983 में कपिल देव की अगुवाई में जीती थी। क्लाइव लायड की अगुवाई वाली वेस्टइंडीज ने 1975 और 1979 में खिताब जीता था। ऑस्ट्रेलिया ने स्टीव वा की कप्तानी में 1999 में और रिकी पोंटिंग की अगुवाई में 2003 और 2007 में विश्व कप जीता था।