Cricket

लंदन: केविन पीटरसन का अंतर्राष्ट्रीय करियर कप्तान एलिस्टेयर कुक को उनके सहयोग को लेकर जुड़ी चिंताओं के कारण समाप्त कर दिया गया। इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) इसका खुलासा किया है। पीटरसन को वेस्टइंडीज दौरे और आईसीसी विश्व टी20 की टीम में नहीं चुना गया जिसके बाद इस बल्लेबाज ने खुलासा किया कि अब वह आगे इंग्लैंड की तरफ से नहीं खेल पाएंगे।

ईसीबी ने तब कहा था कि ऑस्ट्रेलिया के हाथों टेस्ट श्रृंखला में 5-0 की हार के बाद नई टीम में नई व्यवस्था लाने की जरूरत है लेकिन इयान बाथम और माइकल वान जैसे पूर्व खिलाडिय़ों ने जब स्पष्टीकरण देने के लिए कहा तो ईसीबी ने पेशेवर क्रिकेटर्स संघ के साथ संयुक्त बयान जारी किया। कल जारी किए गए बयान में कहा गया है, ‘‘केविन के पिछले एक दशक से इंग्लैंड की टीम की तरफ से किए गए महत्वपूर्ण योगदान को ईसीबी बहुत महत्व देता है। उन्होंने कुछ बेहतरीन पारियां खेली। हालांकि ऑस्ट्रेलिया में सभी मैच गंवाने के बाद इंग्लैंड की टीम को पुनर्गठित करने की जरूरत है।’’

बयान के अनुसार, ‘‘इसके लिए हमें अपने कप्तान एलिस्टेयर कुक को मजबूत बनाना होगा और उन्हें ऐसा माहौल तैयार करने के लिए समर्थन देना होगा जिससे हम आश्वस्त रहें कि उन्हें सभी खिलाडिय़ों का समर्थन मिल रहा है और सभी एक दिशा में आगे बढ़ रहे हैं और उन्हें एक दूसरे पर भरोसा है।’’ बयान में कहा गया है, ‘‘इन कारणों से हमनें केविन पीटरसन के बिना आगे बढऩे का फैसला किया।’’

पीटरसन ने इंग्लैंड की टीम तरफ से सभी प्रारूपों में 13, 797 रन बनाए जो कि इंग्लैंड के लिए रिकार्ड है। हालांकि उनकी दमदार शख्सियत को ड्रेसिंग रूम में विभाजन करने वाली मौजूदगी के रूप में देखा जाता रहा है। उनका दो मुख्य कोच पीटर मूर्स और एंडी फ्लावर से अनबन भी हुई और 2012 में उन्हें इंग्लैंड के तत्कालीन कप्तान एंड्रयू स्ट्रास की आलोचना करने संबंधी संदेश दक्षिण अफ्रीकी खिलाडिय़ों को भेजने के लिए टीम से बाहर किया गया था।