Cricket

नई दिल्ली : कप्तान महेंद्र सिंह धोनी न्यूजीलैंड के खिलाफ एकदिवसीय सीरीज में पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन का रिकार्ड तोड़ देश का सबसे सफल वनडे कप्तान बनने के लक्ष्य के साथ उतरे थे लेकिन अब उन पर अपने करियर में पहली बार 0-4 से शर्मनाक क्लीन स्वीप का खतरा मंडराने लगा है। धोनी इस सीरीज में विश्व की अपनी नंबर एक रैंकिंग पहले ही गंवा चुके हैं और अब करियर में पहली बार 0-4 से क्लीन स्वीप के खतरे में फंस गए हैं। सीरीज का 5वां और अंतिम मैच शुक्रवार को वेलिंगटन में खेला जाना है और इस मैच में धोनी के पास अपनी प्रतिष्ठा बचाने का आखिरी मौका होगा।

इस सीरीज में यदि धोनी 3 मैच जीतते तो वह न केवल अपनी नंबर एक बादशाहत कायम रखते बल्कि अजहर का रिकार्ड तोड़कर देश के सबसे सफल कप्तान बन जाते लेकिन कीवी टीम ने उनका यह मंसूबा पूरा नहीं होने दिया। अजहर ने अपनी कप्तानी में 174 मैचों में 90 जीते थे जबकि धोनी अब तक 158 मैचों में 88 मैच जीत पाए हैं। धोनी राहुल द्रविड़ के 2007 के इंगलैंड दौरे में नैटवैस्ट सीरीज में 3-4 की पराजय के साथ कप्तानी छोडऩे के बाद भारत के वनडे कप्तान बने थे और उन्होंने आस्ट्रेलिया को 7 मैचों की घरेलू सीरीज में 4-2 से मात दी थी। इस सीरीज के बाद से धोनी का वनडे सीरीज में सबसे खराब प्रदर्शन 2011 के इंगलैंड दौरे में 5 मैचों की सीरीज में 3-0 की हार रहा था।