Sports

कराची: आईसीसी के प्रशासनिक ढांचे में बदलाव के प्रस्ताव से नाखुश पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने कहा कि वह भारत, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड को फैसले लेने के अधिकार देने संबंधी किसी भी फेरबदल का विरोध करेगा। इस तरह का प्रस्ताव आईसीसी कार्यकारी बोर्ड की दुबई में 28 और 29 जनवरी को होने वाली बैठक में रखा जाएगा। पीसीबी संचालन बोर्ड के एक सदस्य ने कहा कि शनिवार को लाहौर में हुई बैठक में सदस्यों ने फिर से बोर्ड अध्यक्ष पद पर वापसी करने वाले जका अशरफ से साफ किया कि मसौदा प्रस्ताव का आईसीसी बैठक में कड़ा विरोध किया जाना चाहिए।

सदस्य ने कहा, ‘‘संचालन बोर्ड का मानना है कि यह पाकिस्तान के लिए बहुत संवेदनशील मसला है तथा पीसीबी को प्रस्तावित बदलावों के खिलाफ कड़ी जिरह करने के लिए पूरी तैयारियों के साथ आईसीसी बैठक में जाना चाहिए।’’ उन्होंने कहा कि संचालन बोर्ड ने अशरफ को अधिकार दिए हैं कि वह आईसीसी को मनाने के लिए हर संभव तरीके अपनाएं।

एक अन्य सूत्र ने कहा कि अध्यक्ष को कहा गया है कि वह प्रस्तावित बदलावों से प्रभावित होने वाले अन्य बोर्डों से संपर्क करके सुनिश्चित करें कि आईसीसी बैठक में ये सभी देश एकजुटता दिखाएं। उन्होंने कहा, ‘‘पीसीबी प्रमुख को सलाह दी गई है वह इस मसले पर दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड, श्रीलंका और वेस्टइंडीज बोर्ड के साथ बात करें और ये सभी देश आईसीसी बैठक में मिलकर अपनी बात रखें।’’