Other Games

कोलकाता: महिलाओं के खिलाफ बढ़ती हिंसा से चिंतित पांच बार की विश्व मुक्केबाज चैम्पियन और ओलंपिक पदकधारी मैरीकाम ने महिलाओं को खुद का बचाव करने और फिट रहने के लिए खेल अपनाने की सलाह दी।  इस मणिपुरी महिला मुक्केबाज ने रिक्शा वाले द्वारा उनके साथ की गई बदतमीजी को याद करते हुए कहा, ‘‘मैं साई के होस्टल से अकेले जा रही थी और जब रिक्शा वाला सुनसान सड़क पर पहुंच गया तो उसने मेरा बैग खींचने की कोशिश की।’’

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन मैं उसे ऐसे नहीं छोडऩे वाली थी, मैंने उसे जोर से घूसा लगाया और वह गिर गया। मेरे कोच भी आ गए और उन्होंने उसे पुलिस के सुपुर्द कर दिया।’’ तीन बच्चों की मां मैरीकाम ने अभिभावकों से अपने बच्चों को खेलों में डालने का आग्रह किया ताकि वे खुद को फिट रख सकें। उन्होंने कहा, ‘‘खेल खुद को फिट रखने का अच्छा तरीका है। माता पिता को ही शुरूआत करनी चाहिए।’’ रियो ओलंपिक 2016 के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘मैं स्वर्ण पदक के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करूंगी। लंदन ओलंपिक का मेरा अनुभव मेरी मदद करेगा।’’