Other Games

अबु धाबी: बीते पूरे वर्ष अग्रणी गोल्फ खिलाड़ी भारत के जीव मिल्खा सिंह हाथ की एक उंगली में लगी चोट से जूझते रहे। लेकिन नए वर्ष के पहले बड़े टूर्नामेंट अबु धाबी एचएसबीसी गोल्फ चैम्पियनशिप से पहले उन्होंने कहा कि वह एकदम तरोताजा महसूस कर रहे हैं और विश्व के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का मुकाबला करने के लिए बेताब हैं। अबु धाबी में यह टूर्नामेंट गुरुवार से शुरू हो रहा है।

एचएसबीसी गोल्फ चैम्पियनशिप में लंबे समय से कड़ी प्रतिद्वंद्विता देते आ रहे जीव मिल्खा सिंह ने कहा कि वह स्फूर्तिवान महसूस कर रहे हैं और यूरोपीय टूर पर अपने पसंददीदा चैम्पियनशिप में ठोस प्रदर्शन के साथ वर्ष की शुरुआत करने के लिए तैयार हैं। वह आठवीं बार इस टूर्नामेंट में हिस्सा ले रहे हैं। जीव मिल्खा सिंह ने कहा, ‘‘अबु धाबी में अब तक कई वर्षों से वर्ष के अभियान की शुरुआत करते हुए मैंने जो स्थान हासिल किया है, उसके अनुरूप प्रदर्शन करने का लक्ष्य लेकर मैं उतरूंगा। मैं इस गोल्फ कोर्स से भलीभांति परिचित हूं, तथा इस सप्ताह मैं अपने इस अनुभव का पूरा लाभ उठाने के लिए प्रतिबद्ध हूं।’’

जिव भारत के अब तक के सबसे सफल गोल्फ खिलाडिय़ों में से एक हैं, तथा 1993 में अपने करियर की शुरुआत करने के बाद अब तक कई कीर्तिमान स्थापित कर चुके हैं। जीव यूरोपीय टूर में 1998 में क्वालीफाई करने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बने, तथा चार खिताब जीतकर अब तक के भारत के सबसे सफल खिलाड़ी भी रहे। चंडीगढ़ में जन्मे 42 वर्षीय जीव अक्टूबर, 2006 में विश्व रैंकिंग में 100 में प्रवेश करने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी भी बने। जीव ने अपना पिछला खिताब 2012 में स्कॉटिश ओपन के रूप में हासिल किया था।