Sports

नई दिल्ली: ब्रिटेन के महान टेनिस खिलाड़ी टिम हेनमेन भारत में जूनियर टेनिस को बढावा देने के लिए नई मुहिम शुरू करेंगे। भारत ब्रिटेन के बाहर पहले विम्बलडन टेनिस टूर्नामेंट की मेजबानी करेगा। ‘द रोड टू विम्बलडन’ लॉन्च करने के लिए 11 बार के टूर चैम्पियन हेनमेन इस महीने के आखिर में दिल्ली और मुंबई आएंगे। इस मुहिम के तहत स्थानीय बच्चों को अगस्त में विम्बलडन खेलने का मौका दिया जाएगा और कई कोचिंग क्लीनिंग आयोजित किए जाएंगे।

ये क्लीनिक दिल्ली (आर के खन्ना टेनिस सेंटर) और मुंबई (एमएसएलटीए टेनिस सेंटर) में  दो अंडर 14 राष्ट्रीय एकल टूर्नामेंट का हिस्सा होंगे। इन दोनों टूर्नामेंटों के शीर्ष 16 लड़के और लड़कियों को दिल्ली में अप्रैल में विम्बलडन फाउंडेशन जूनियर मास्टर्स खेलने का मौका मिलेगा। इसमें से दो लड़के और दो लड़कियों को विम्बलडन के ग्रासकोर्ट पर यूके एचएसबीसी नेशनल फाइनल्स के लिए चुना जाएगा।

भारत में 1994 में अपने कैरियर की शुरुआत करने वाले हेनमेन ने इंडियन सेटेलाइट सर्किट पर लगातार तीन टूर्नामेंट जीते। उनके साथ आल इंग्लैंड क्लब के मुख्य कोच डेन ब्लोक्सहेम भी 6 से 14 जनवरी तक दिल्ली और मुंबई में होंगे। हेनमेन ने कहा, ‘‘भारत के लिए मेरे दिल में खास जगह है। मैंने 20 साल पहले यहीं पहली सफलता पाई थी। मैं विम्बलडन फाउंडेशन और एसएसबीसी का शुक्रगुजार हूं। यह भारतीय बच्चों की पूरी पीढी के लिए नई शुरुआत होगी।’’