Sports

सिडनी: प्रचंड फार्म में चल रहे ऑस्ट्रेलिया के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज मिशेल जानसन का कहना है कि एशेज सीरीज में 0-4 से पिछड चुकी इंग्लिश टीम के बल्लेबाज चालबाजी कर रहे हैं और मेजबान गेंदबाजों की लय बिगाडने के लिए उनके गेंद फेंकने से ऐन पहले क्रीज से हट जाते हैं। मेलबोर्न में खेले गए चौथे टेस्ट में जानसन जब केविन पीटरसन को गेंद डाल रहे थे तो वह क्रीज से हट गए थे।

इस पर जानसन ने गेंद उनकी तरफ उछाल दी थी। इस पर दोनों के बीच तीखी नोकझोक हुई थी। दोनों टीमों के बीच पांचवां और अंतिम एशेज टेस्ट तीन जनवरी से सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में शुरु होगा। जानसन ने बुधवार को संवाददाताओं से कहा ‘मुझे केवल गेंद फेंकने का ही अफसोस है। मुझे लगता है कि यह अनुचित था लेकिन बाकी जो कुछ भी हुआ वह एकदम सही था। मैं पीटरसन को बताना चाहता था कि वह ऐसी हरकतें बंद करें। बल्लेबाजों को अगर साइट स्क्रीन से परेशानी होती है तो वे विकेटों से दूर जा सकते हैं। यह उनका अधिकार है।

उन्होंने कहा ‘लेकिन इंग्लैंड के बल्लेबाज जानबूझकर गेंदबाज की लय बिगाडने के लिए ऐसा करते हैं। यह उनकी रणनीति का हिस्सा है। जब वे बार-बार ऐसा करते हैं तो इससे गेंदबाज का आपा खोना लाजमी है। लेकिन इंग्लैंड के बल्लेबाज सुधरने वाले नहीं हैं।’ दोनों टीमों के बीच पिछले कुछ समय से तनातनी चल रही है और सीरीज के दौरान उनके खिलाडियों के बीच कई बार कहासुनी हो चुकी है। ऑस्ट्रेलिया के कप्तान माइकल क्लार्क को ब्रिसबेन टेस्ट के दौरान जेम्स एंडरसन पर टिप्पणी करने के लिए जुर्माना भी चुकाना पडा था।