Sports

नई दिल्ली: दक्षिण अफ्रीका के करिश्माई आलराउंडर जैक्स कैलिस के भारत के खिलाफ डरबन मैच के बाद टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा से यह तय हो गया है कि मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के सर्वाधिक टेस्ट रनों और शतकों के रिकार्ड अगले कई वर्षों तक सुरक्षित रहेंगे। सचिन ने नवम्बर में अपना 200वां टेस्ट खेलने के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिया। सचिन इससे लगभग एक साल पहले वनडे को अलविदा कह चुके थे।

 

मास्टर ब्लास्टर के संन्यास के एक महीने बाद कैलिस ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की है। हालांकि वह अभी 2015 के एकदिवसीय विश्व कप में खेलने की इच्छा रखते हैं। टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक मैचों, रनों और शतकों के विश्व रिकार्डधारी सचिन के इन रिकार्डों को अब कोई खतरा नहीं है। सचिन ने 200 मैचों में 51 शतकों की मदद से 15921 रन बनाए हैं जबकि कैलिस ने 165 टेस्ट में 44 शतकों की मदद से 13174 रन बनाए हैं।