Cricket

डरबन: ड्रा हुए पहले टेस्ट में रोमांचक प्रतिस्पर्धा के बाद भारत और दक्षिण अफ्रीका आज से हो रहे दूसरे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट में बार फिर श्रेष्ठता की जंग जीतने के इरादे से उतरेंगे। दुनिया की नंबर एक टीम दक्षिण अफ्रीका और दूसरे नंबर की टीम भारत के बीच पहले टेस्ट के पांचों दिन रोमांचक संघर्ष देखने को मिला और इसे अब तक के ड्रा हुए सर्वकालिक बेहतरीन टेस्ट में से एक माना जा रहा है।

टेस्ट इतिहास के सबसे बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए दक्षिण अफ्रीका की टीम सिर्फ आठ रन से जीत से दूर रह गई। दूसरी तरफ भारत हैरान था कि कैसे चार दिन के दबदबे के बाद सिर्फ एक सत्र ने उसकी किस्मत बदल दी। अब दोनों टीमें किंग्समीड में बाक्सिंग डे पर निर्णायक टेस्ट खेलने उतरेंगी। इस दौरे से पहले ही भारत और मेजबान टीम के बोर्ड के बीच इसके आयोजन को लेकर खींचतान देखने को मिली और अंतत: इस दौरे को छोटा कर दिया गया।

दक्षिण अफ्रीका की टीम हालांकि पहला वार करने में सफल रही। तीन वन डे की श्रृंखला से पहले कोई अभ्यास मैच नहीं था और मेजबान टीम ने इसका फायदा उठाते हुए भारत के खिलाफ कुछ बड़ी जीत दर्ज की। भारतीय टीम लंबे घरेलू सत्र के बाद यहां आई थी और उसे अधिक जानकारी नहीं थी कि यहां के हालात से कैसे निपटना है। पिछले कुछ समय में सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण जैसे दिग्गज खिलाडिय़ों के सन्यास के बाद युवा टीम को काफी कुछ साबित करना था।