Sports

सिडनी: ऑस्ट्रेलिया के रिटायर्ड क्रिकेटरों पर कराए गए एक सर्वे से पता चला है कि पेशेवर क्रिकेट को छोडऩे के बाद अधिकांश अवसाद की चपेट में आ जाते हैं। ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर संघ द्वारा कराए गए इस सर्वे में 2005 के बाद से अंतर्राष्ट्रीय या राज्य स्तर पर क्रिकेट से सन्यास लेने या सन्यास लेने को मजबूर हुए क्रिकेटरों से संपर्क किया गया।

इसमें पाया गया कि 39 प्रतिशत खिलाडिय़ों को सन्यास के दो सप्ताह तक तनाव और बेचैनी की शिकायत हुई जबकि दो सप्ताह बाद 25 प्रतिशत अवसाद में चले गए और 43 प्रतिशत को लगा कि क्रिकेट से नाता तोडऩे के बाद उनका अस्तित्व खत्म हो गया। एसीए के मुख्य कार्यकारी पाल मार्श ने सिडनी मार्निंग हेराल्ड से कहा कि सन्यास की कगार पर पहुंचे खिलाडिय़ों की मदद जरुरी है क्योंकि उनके लिए यह कठिन समय है।