Other Games

गुडगांव: भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ (एनआरएआई) के अध्यक्ष रणइंदर सिंह ने भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) के दागी अधिकारियों को अपने चुनाव से दूर रखने के फैसले का स्वागत तो किया है लेकिन साथ ही कहा है कि आईओए को अपने चुनाव पूरी ईमानदारी के साथ निष्पक्षता से कराने होंगे। रणइंदर ने गुरुवार को यहां मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल में 10 मीटर की अत्याधुनिक शूटिंग रेंज का उद्घाटन करने के बाद संवाददाताओं से यह बात कही।

इस अवसर पर लंदन ओलंपिक के रजत पदक विजेता निशानेबाज विजय कुमार, कांस्य पदक विजेता गगन नारंग और पूर्व विश्व नम्बर एक डबल ट्रैप निशानेबाज रोंजन सोढी मौजूद थे। एनआरएआई के अध्यक्ष ने कहा ‘आईओए ने दागी अधिकारियों को चुनाव से दूर रखने का फैसला तो किया है लेकिन नौ फरवरी को होने वाले उसके चुनावों को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है। अभी यह नहीं कहा जा सकता कि चुनाव होंगें भी या नहीं। दागी अधिकारियों के आईओए के नैतिक आयोग में जाने का रास्ता अभी खुला है।’

रणइंदर ने कहा ‘हमने अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के इस निर्देश का हमेशा समर्थन किया है कि दागी अधिकारियों को ओलंपिक आंदोलन से बाहर रखा जाए। हमारी पहली संस्था थी जिसने आयु और कार्यकाल के नियम को लागू किया था। लेकिन हमारे इसी रुख के कारण हमें आईओए की बैठक से बाहर भी किया गया था। यही कारण है कि मैं आईओए के चुनावों की निष्पक्षता को लेकर अब भी संशकित हूं।’