Sports

पर्थ: ऑस्ट्रेलियाई कप्तान माइकल क्लार्क ने आगाह किया कि केवल तेज गति से गेंदबाजी करने से ही इंग्लैंड के खिलाफ पर्थ टेस्ट नहीं जीता जा सकता और उनके गेंदबाजों को तेज गर्मी में रणनीतिक गेंदबाजी करनी होगी। वाका में अपना 100वां टेस्ट मैच खेलने की तैयारी कर रहे क्लार्क ने कहा कि पूरा देश एशेज की जीत को लेकर उत्साहित हैं लेकिन पहले यह तय मान लेना ठीक नहीं है। उन्होंने न्यूज लिमिटेड टैबलायड में अपने कालम में लिखा, ‘‘यह कड़ा टेस्ट मैच होगा। इतिहास बताता है कि हमारा यहां शानदार रिकार्ड रहा है और पहले दो टेस्ट मैचों में जीत से हमारा मनोबल बढ़ा है।’’

क्लार्क ने कहा, ‘‘लेकिन जब शुक्रवार को तीसरा टेस्ट मैच शुरू होगा तो इतिहास कुछ काम नहीं आएगा। हमें खुद इतिहास रचना होगा। और केवल तेज गेंदबाजों के सहारे मैच नहीं जीता जा सकता।’’ क्लार्क ने टीम घोषित नहीं की क्योंकि वह तेज गेंदबाज रेयान हैरिस अभी तक पूरी तरह फिट नहीं हैं। तेज गेंदबाज डग बोलिंजर और नाथन कोल्टर नाइल और आलराउंडर जेम्स फाकनर स्टैंडबाई हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मैं टॉस तक इंतजार करूंगा और देखूंगा कि अभ्यास के बाद सभी की स्थिति कैसी है। इससे हमें विकेट का एक और आकलन करने का भी मौका मिल जाएगा।’’