Sports

मुंबई: मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के बालसखा और पूर्व भारतीय बल्लेबाज विनोद कांबली को शुक्रवार को सुबह दिल का दौरा पडने के बाद मुंबई के लीलावती अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक 41 साल के कांबली की पिछले साल एंजियोप्लास्टी कराई गई थी1 अस्पताल की तरफ से इस बारे में कोई बयान नहीं आया है1

कांबली 1988 में सचिन के साथ एक स्कूल टूर्नामेंट में 664 रन की साझेदारी कर सुॢखयों में आए थे1 इस मैच में सचिन और कांबली ने तिहरे शतक बनाए थे। बाएं हाथ के बल्लेबाज कांबली ने 1993 में अपना टेस्ट पदार्पण किया था और पहली आठ पारियों में दो दोहरे शतक और दो शतक लगाए थे।  लेकिन इसके बाद वह अपनी फार्म के लिए जूझते रहे। कांबली ने 17 टेस्टों में 54.20 के औसत से 1084 रन बनाए हैं1 इसके अलावा उन्होंने 104 वनडे में दो शतकों की मदद से 2477 रन बनाए हैं।

साल 1996 के विश्वकप के दौरान सेमीफाइनल में श्रीलंका के खिलाफ कोलकाता में हार के बाद कांबली रोते हुए मैदान से निकले थे। दूसरी तरफ उनके बालसखा सचिन ने 1989 में अंतरराष्ट्रीय करियर शुरू किया और 24 साल तक खेलने के बाद इसी महीने क्रिकेट को अलविदा कहा1 सचिन ने बल्लेबाजी का लगभग हर रिकार्ड अपने नाम किया और यही वजह है कि उन्हें क्रिकेट में भगवान का दर्जा हासिल ह। सचिन को .भारत रत्न. के लिए नामांकित किया गया है।