Sports

मुंबई: देश और दुनिया के लिए क्रिकेट के भगवान बन चुके सचिन तेंदुलकर के लिए क्रिकेट उनका भगवान है और उनकी पत्नी अंजली का मानना है कि इस खेल के बिना सचिन की कल्पना करना उनके लिए बहुत ही मुश्किल है। वेस्टइंडीज के खिलाफ मुंबई के वानखेडे स्टेडियम में अपने 24 वर्षों के करियर का आखिरी मैच खेल रहे सचिन की पत्नी अंजली ने कहा ‘मेरे लिए सचिन के बिना क्रिकेट की कल्पना करना मुश्किल नहीं है लेकिन बिना क्रिकेट सचिन की कल्पना करना बहुत कठिन है।’

अपने करियर की आखिरी सीरीज खेल रहे सचिन की हौंसला अफजाई के लिए अंजली स्टेडियम में परिवार के साथ लगातार मौजूद हैं लेकिन मास्टर ब्लास्टर के करोड़ों प्रशंसकों की ही तरह उन्हें भी रिटायरमेंट के बाद सचिन के जीवन में आने वाले खालीपन की ङ्क्षचता अभी से सताने लगी है। अंजली ने कहा ‘मुझे नहीं पता है कि रिटायरमेंट के बाद सचिन के जीवन में आने वाले खालीपन की जगह किस चीज से भरेगी।’

करोड़ों लोगों के दिलों में बसने वाले सचिन की जीवनसाथी अंजली ने उनकी रिटायरमेंट को लेकर बताया ‘सचिन ने अपने भविष्य को लेकर मुझसे चर्चा की थी जिसके बाद सचिन ने 200वें टेस्ट के बाद क्रिकेट से सन्यास लेने का अंतिम निर्णय किया।’ उन्होंने कहा ‘सचिन ने मुझसे कहा था कि जिस भी पल उन्हें लगा कि मैं क्रिकेट को अपना 100 फीसदी योगदान नहीं दे पा रहा हूं मैं सन्यास ले लूंगा। एक दिन वह मेरे पास आए और उन्होंने मुझसे इस बारे में बात की और रिटायरमेंट का निर्णय लिया।’