Cricket

मुंबई: भारत की सबसे बड़ी खेल हस्ती और आधुनिक क्रिकेट के महान नायक सचिन तेंदुलकर मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में जब वैस्टइंडीज के खिलाफ अपना आखिरी और 200वां टैस्ट मैच खेलने के लिए मैदान पर कदम रखेंगे तो चारों तरफ भावनाओं का ज्वार उमड़ रहा होगा।

यह भले ही 2 टीमों के बीच का मुकाबला है कि लेकिन सभी की निगाहें उस इंसान पर टिकी रहेंगी जो पिछले करीब अढ़ाई दशक के अपने चमकदार करियर में जीवंत किवदंती बन गए। तेंदुलकर भारत में इस खेल के पर्यायवाची हैं क्रिकेट जगत में उनके नाम की दहशत भी बनी रही तो उन्हें तारीफें भी मिलीं।

अविश्वसनीय प्रतिभा के धनी तेंदुलकर ने 1989 में अपना पहला टैस्ट मैच खेलने से लेकर हमेशा क्रिकेट के मैदान और अपने प्रशंसकों के दिलों में राज किया। उनका दबदबा इस तरह रहा कि उनकी कमी हमेशा खलेगी।