Sports

मुंबई: क्रिकेट का भगवान, मास्टर ब्लास्टर और हमारा सचिन, इन्हीं नामों से 24 सालों से दुनिया के करोड़ों प्रशंसकों के दिलों पर राज करने वाले सचिन तेंदुलकर आखिरी बार जब मुंबई के वानखेड़े मैदान पर खेलने उतरेंगे तो पूरा देश उनकी इस विदाई में उनके साथ खड़ा होगा। मास्टर ब्लास्टर गुरुवार से वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले जाने वाले सीरीज के दूसरे और अंतिम टेस्ट के बाद 24 साल के अपने सुनहरे क्रिकेट करियर पर विराम लगा देंगे।

क्रिकेट के इस दिग्गज की विदाई से पहले जहां पूरा देश उनके साथ खड़ा है वहीं दुनियाभर में फैले उनके करोड़ों प्रशंसक अपने भगवान की विदाई को लेकर भावुक हैं। सचिन भी कह चुके हैं कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि देश उन्हें इस तरह से विदाई देगा। प्रशंसकों और चाहने वालों से मिल रहे इस प्यार से भावुक सचिन भी वानखेड़े में अपने आखिरी मुकाबले में किसी को निराश नहीं करना चाहेंगे और उम्मीद है कि एक यादगार पारी के साथ विदाई के लिये वह अपनी ओर से पूरा संघर्ष करेंगे।

भारतीय टीम सचिन को कोलकाता के ईडन गार्डंस में खेले गये पहले टेस्ट में पारी और 51 रन से शानदार जीत दर्ज कर उनके 199वें टेस्ट को यादगार बना चुकी है और दूसरे और सचिन के 200वें टेस्ट में भी उसकी कोशिश मास्टर ब्लास्टर को विजयी विदाई देने की होगी।