Other Games

नई दिल्ली: ‘फ्लांइग सिख’ के नाम से मशहूर पूर्व एथलीट मिल्खा सिंह ने रोम ओलंपिक में साथी ओलंपियन रहे गुरबचरन सिंह रंधावा के उन दावों को खारिज किया है जिसमें उन्होंने मिल्खा पर उनकी आत्मकथा में गलत तथ्य बताने का आरोप लगाया था।

ग्रेटर नोएडा में ‘डायबटीज केयर’ के एक कार्यक्रम के बाद पूर्व एथलीट मिल्खा ने कहा कि पूर्व ओलंपियन रंधावा ने जो भी आरोप उन पर लगाये हैं वह पूरी तरह गलत हैं। दरअसल 1960 रोम ओलंपिक में मिल्खा के साथ दौडऩे वाले ओलंपियन गुरबचरन सिंह रंधावा ने हाल ही में यह दावा किया था कि मिल्खा सिंह ने रोम ओलंपिक से जुड़े जो तथ्य अपनी आत्मकथा में पेश किये हैं वे गलत हैं। उनका आरोप था कि रोम ओलंपिक में 400 मीटर रेस के फाइनल में मिल्खा सिंह 200 मीटर तक पीछे चल रहे थे और उन्होंने कोई भी विश्व रिकार्ड कायम ही नहीं किया था।

पदमश्री मिल्खा ने अपने ऊपर लगाए गए इन आरोपों को गलत बताते हुए कहा ‘मैं 250 मीटर तक सबसे आगे था और लीड कर रहा था। उस समय केवल एक ही रिकार्ड हुआ करता था और वह ओलंपिक था जिसमें मैंने जीत दर्ज की थी। वहां कोई विश्व रिकार्ड नहीं था।’ इसी के साथ पूर्व एथलीट ने एक सवाल के जवाब में कहा कि फार्मा कंपनियों को भी खिलाडिय़ों के लिए खास दवायें बनाने के लिए निवेश करना चाहिए।