Cricket

रांची: आस्ट्रेलिया के खिलाफ कल यहां चौथा वन डे भले ही बरिश के कारण रद्द करना पड़ा लेकिन भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि आस्ट्रेलियाई टीम द्वारा दिया गया 296 रन का लक्ष्य हासिल किया जा सकता था। धोनी ने कहा कि उनकी टीम को इस लक्ष्य का पीछा करने के लिए अच्छी शुरुआत की जरूरत थी। आस्ट्रेलिया ने बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद आठ विकेट पर 295 रन बनाए थे। धोनी ने कहा, ‘‘यह पहले 15 ओवर पर निर्भर करता, कि हम कैसी शुरुआत करते।

 

अगर हम विकेट नहीं गंवाते तो यह पिच बल्लेबाजी के लिए बेहतर बन जाती।’’ जब बारिश से मैच रूका तब भारत ने 4.1 ओवर में बिना विकेट खोए 27 रन बना लिए थे। अंपायरों ने मैदान पर ज्यादा पानी भरा होने के कारण इसे रद्द कर दिया। धोनी ने कहा, ‘‘मौसम हमारे वश में नहीं है। कुछ हद तक आप थोड़े निराश होते हो लेकिन जो भी परिणाम हो, हमें स्वीकार करना होता है। हमें जैसी शुरूआत मिली थी, हम 20 ओवर का खेल भी खेल सकते थे।’’

 

भारतीय कप्तान ने तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी (42 रन देकर तीन विकेट) की भी तारीफ की जिन्होंने अपनी गेंदबाजी से प्रभावित किया। धोनी ने कहा, ‘‘उसकी (शमी) गेंद थोड़ी चकमा देने वाली थी। आप जैसा सोचते हो, वह उससे तेज गेंद डालता है। महत्वपूर्ण यही था कि उसने अच्छी गेंदबाजी की और विकेट हासिल किए।’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘अंतिम ओवरों में वह लगातार यार्कर फेंक रहा था।’’ भारत का क्षेत्ररक्षण काफी लचर रहा और टीम ने छह कैच छोड़े लेकिन धोनी ने क्षेत्ररक्षकों का समर्थन करते हुए कहा कि वे अगले मैच में अच्छी वापसी करेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘कभी कभार ऐसा होता है, कुछ स्टेडियम में गेंद देखना मुश्किल होता है।’’